the jharokha news

टोडरपुर ग्रांम सभा के प्रधान मुन्ना राजभर का रिश्वत लेते विडियों वायरल होने पर, जांच करने पहुंचे अधिकारी

टोडरपुर ग्रांम सभा के प्रधान मुन्ना राजभर का रिश्वत लेते विडियों वायरल होने पर, जांच करने पहुंचे अधिकारी

todarpur graamm sabha ke pradhaan munna raajabhar ka rishvat lete vidiyon vaayaral hone par, jaanch karane pahunche adhikaaree

रजनीश कुमार मिश्र बाराचवर (गाजीपुर) गाजीपुर जनपद के विकास खण्ड बाराचवर अंतर्गत टोडरपुर गांव में आवास के नाम पर एक महिला से प्रधान मुन्ना राजभर का रिश्वत लेते दो दिन पुर्व एक विडियों वायरल हुआ था।

इस विडियों और टोडरपुर गांव में हुए भ्रष्टाचार की जांच का आदेश जिलाधिकारी मंगला प्रसाद सिंह ने खण्ड विकास अधिकारी शिवांकित वर्मा को सौपी । विडिओ शिवांकित वर्मा मंगलवार को अपने टीम के साथ करीब दो बजे टोडरपुर गांव पहुंच मामले की तफ्तीश में जुट गये।

जांच के दौरान ग्रामीणों ने लगाये ग्रांम प्रधान पर आरोप

खण्ड विकास अधिकारी द्वारा जांच के दौरान लाभार्थी,शांति देवी, सिंधु देवी, मराक्षी देवी, संगीता देवी, रानी देवी, गुड़िया देवी एवं अन्य सभी 16 ग्रामीणों ने ग्रांम प्रधान मुन्ना राजभर पर आरोप लगाते हुए जांच अधिकारी से कहा की प्रधान अवास के नाम 15000 हजार रुपये की मांग किया था

लाभार्थियों ने कहा की प्रधान मुन्ना राजभर ने कहा की अगर आप पैसा नहीं देंगे तो आवास के नाम पर आया हुआ धनराशि वापस हो जायेगी। वहीं जांच अधिकारी शिवांकित वर्मा ने ग्रामीणों से कहा की अगर आप लोगों से ब्लाक का कोइ भी कर्मचारी घूस मांग रहा हो तो आप लोग हमसे कार्यालय में शिकायत करिये।

जांच के दौरान मिली सत्यता

टोडरपुर गांव मे हुए भ्रष्टाचार और प्रधान का रिश्वत लेते विडियों की जांच करने पहुंचे वीडीओ शिवांकित वर्मा ने बताया की वीडीओ की पुष्टि हो चुकी है।

उन्होंने बताया की कुछ ग्रामीणों ने कहा की असूली हुई है। एक सवाल का जबाब देते हुए वीडीओ ने कहा सेक्रेटरी से स्पष्टीकरण मांगा जायेगा और दोषी पाये गये तो उनके उपर कार्यवाही की जायेगी।

वीडीओ वायरल वाले स्थान पर पहुंचे अधिकारी

जांच करते समय जांच अधिकारी शिवांकित वर्मा उस जगह पहुंचे जहां से विडियों वायरल हुआ था।उस विडियों में जिस महिला से प्रधान रिश्वत मांगा गया था।उसने वीडीओ शिवांकित वर्मा से साफ कहा की प्रधान मुन्ना राजभर द्वारा आवास के नाम 15000 हजार रुपये की मांग की गई थी।महिला ने बताया की प्रधान द्वारा कहा गया की इसमे से सेक्रेट्री पांच हजार रुपये लेगे।अगर पैसा नहीं मिला तो धनराशि वापस हो जायेगी।

टोडरपुर गांव के रंजीत मिश्रा द्वारा, प्रधान पर लगाया गया था आरोप

बतादें की टोडरपुर गांव के ही रंजीत मिश्रा द्वारा मुन्ना प्रधान पर गबन का आरोप लगाया जा चूका है।कई बार कोर्ट द्वारा प्रधान का जांच करने का आदेश भी आया लेकिन अधिकारी और प्रधान के मिली भगत से फाईल ही दबा दिया गया।

सेक्रेटरी भी सक के दायरे में

टोडरपुर गांव के सेक्रेटरी उमेश सिंह भी सक के दायरे में है,क्यो की वायरल हो रहे वीडियो में रिश्वत खोर मुन्ना प्रधान सेक्रेटरी का भी नाम ले रहा है।वहीं ग्रामीणों ने कहा की सेक्रेटरी उमेश सिंह की भी जां होनी चाहिए ।अब देखना है,की रिश्वतखोर प्रधान पर वीडीओ शिवांकित वर्मा द्वारा क्या कार्यवाही की जा रही है।

सम्बंधित खबर : फंदे में फंसा टोडरपुर का ‘रिश्वतखोर’ मुन्ना प्रधान, डीएम ने दिए जांच के आदेश

सम्बंधित खबर : 101 कन्याओं का विवाह कराने वाले मुन्ना प्रधान का घुस मांगते हुए विडियो हुआ वायरल

यह भी पढ़े : अगर आप के गांव का प्रधान सरकारी फंड में कर रहा है घपला तो इस तरह करें शिकायत

Start at 0:00


Read Previous

फंदे में फंसा टोडरपुर का ‘रिश्वतखोर’ मुन्ना प्रधान, डीएम ने दिए जांच के आदेश

Read Next

रिलायंस फाउंडेशन एवं पशुपालन बिभाग गाजीपुर के द्वारा पशु चिकित्सा शिविर का आयोजन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

x
error: Content is protected !!