उत्तर प्रदेश

बसपा से चुनाव लड़ने का इच्छुक था बर्तन कारोबारी मायावती ने मांगे दो करोड़ तो कर दी खुदकुशी

Pottery businessman Mayawati wanted to fight elections with BSP, asked for two crores, committed suicide

गाजीपुर। थाना कोतवाली क्षेत्र महराजगंज में एक बर्तन व्यापारी ने जहरीला पदार्थ खाकर खुदकुशी कर ली। व्यापारी के पास से एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है । मृतक की पहचान मुन्नू प्रसाद के रूप में हुई है। बताया जा रहा है कि सुसाइड नोट में मोनू ने बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती पर टिकट देने के लिए दो करोड़ रुपए मांगने का आरोप लगाया है।

हालांकि इस मामले में बहुजन समाज पार्टी के जिला अध्यक्ष रामप्रकाश ने इन आरोपों का खंडन किया है। राम प्रकाश का कहना है कि का कहना है कि मुन्नू ना तो बहुजन समाज पार्टी के सदस्य थे और ना ही कार्यकर्ता और ना ही कभी इस बात को लेकर कोई चर्चा हुई थी। उन्होंने कहा कि पार्टी को बदनाम करने की साजिश है।. फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

यह मामला

  जिले के महाराजगंज निवासी 62 वर्षीय मुन्नू प्रसाद शहर के बर्तन कारोबारी हैं । मोनू के दो बेटे मुंबई में रहते हैं जबकि, मन्नु की पत्नी दुर्गा भी अपने बेटों के साथ ही मुंबई में रहती हैं। वही मन्नू अपने सबसे छोटे बेटे दीपक के साथ महाराजगंज में ही रहकर अपना बर्तनों का कारोबार करते थे ।

62 वर्षीय कारोबारी मुन्नू के बेटे ने बताया कि बह सुबह अपने पिता के लिए चाय बना कर जब उन्हें जगाने उनके कमरे में पहुंचा दो वह अपनी चारपाई को मृत पड़े पड़े हुए थे। मनु ने तत्काल इसकी तत्काल इसकी सूचना शहर कोतवाली पुलिस को दी । मौके पर पहुंचे महाराजगंज पुलिस चौकी के इंचार्ज राजेश कुमार मिश्र ने शव को कब्जे में लेकर पंचनामा के बाद पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया ।

सदर से लड़ना चाहते थे विधायकी

थाना कोतवाली के प्रभारी विमल मिश्र ने बताया ने बताया कि मुन्नू गांव में घूमकर साइकिल पर बर्तन बेचने का काम करते थे। कोतवाली इंचार्ज के अनुसार घर वालों वालों घर वालों वालों ने उन्हें बताया कि उसके पिता मुन्नू बहुजन समाज पार्टी के सक्रिय कार्यकर्ता थे और वह चुनाव लड़ने के इच्छुक थे।

इसके लिए वह कुछ समय से क्षेत्र में तैयारियों में भी जुटे थे मनु के बेटे ने बताया कि वह इस बार गाजीपुर सदर विधानसभा से विधायक का चुनाव लड़ना चाहते थे। इसके लिए उनकी बसपा सुप्रीमो मायावती से बात हुई थी। मायावती ने दो करोड़ रुपए उसके पिता से मांगे थे। पैसे इकट्ठा ना कर पाने की वजह से उसके पिता ने ने जहर खाकर जान दे दी। कोतवाली प्रभारी ने बताया कि फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है ।

Jharokha

द झरोखा न्यूज़ आपके समाचार, मनोरंजन, संगीत फैशन वेबसाइट है। हम आपको मनोरंजन उद्योग से सीधे ताजा ब्रेकिंग न्यूज और वीडियो प्रदान करते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!