the jharokha news

Uncategorized

बेटे की चाह में पिता ने चढ़ाई बेटी की बलि

लोहरदगा । झारखंड के लोहदगा जिलें में अंधविश्‍वास का एक ऐसा मामला साने आया है जिसे जान कर होश उड़ जाएंगे। यहां एक पिता ने चार साल की अपनी ही बेटी की बलि चढ़ा दी। बताया जा रहा है ऐसा उसने अंधविश्‍वास में आकर बेटे की चाहत में ऐसा कदम उठाया है। यह घटना पेशरार प्रखंड मुख्यालय पंचायत के बोण्डोबार गांव की बताई जा रही है।

तांत्रिक के बहाके में आकर अनपढ़ पिता किया ऐसा काम

बताया जा रहा है कि 26 वर्षीय आरोपी सुमन नगेसिया अनपढ़ है वह काम की तलाश में बोण्डोबार गांव गया था। यहां किसी तांत्रिक के बहकावे में आ कर उसने अपनी छह वर्षीय पुत्री की बलि चढ़ा दी। आरोपी है कि तांतित्रक भगतों ने सुमन से कहा था कि बेटी की बलि चढ़ाओगे तो बेटे का जन्म होगा। इसी अंधविश्वास में उसने बिना सोचे समझे अपनी ही बेटी की बलि चढ़ा दी।

वहीं किसी ओझा-गुनी से पुत्र प्राप्ति को लेकर चर्चा की थी। और बताया था कि उसकी छह साल की बेटी है और उसे बेटा नहीं हुआ है। बेटे के लिए क्या उपाय करना होगा। बेटे की चाह में सुमन ने भगत आदि को बुलाकर घर में अनुष्ठान किया और आंगन में बेटी की बलि चढ़ा दी। ग्रामीणों ने बताया कि सुमन ने अपनी बेटी सुषमा को आंगन में पूजा-पाठ करने के बाद ही बलि दे दिया।

पत्‍नी की शिकायत पर पुलिस आरोपी को किया गिरफ्तार

पुलिस के मुताबिक बेटी को बलि चढ़ाए जाने के बाद आरोपी सुमन की पत्‍नी फुलमनिया इतना डर गई कि वह अपने मायके चली गई। हलांकि तांत्रिक का पता नहीं चल पाया है। वहीं पुलिस ने आरोपी सुमन को गिरफ्तार लोहरदगा मंडल कारागार भेज दिया है।

हमारे फेसबुक पेज को अभी लाइक और फॉलों करें @thejharokhanews

Twitter पर फॉलो करने के लिए @jharokhathe पर क्लिक करें।

हमारे Youtube चैनल को अभी सब्सक्राइब करें www.youtube.com/channel/UCZOnljvR5V164hZC_n5egfg







Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Lorem ipsum dolor sit amet, consectetur adipiscing elit...