the jharokha news

मथुरा में कुंभ मेले की तैयारियां जोरों पर, 14 फरवरी को शामिल होंगे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

मथुरा में कुंभ मेले की तैयारियां जोरों पर

मथुरा । कान्हा की नगरी के वृन्दावन धाम में 16 फरवरी से यमुना किनारे लगने वाले कुम्भ की तैयारियों का सूबे के मुख्यमंत्री 14 फरवरी को निरीक्षण करेंगे । मुख्यमंत्री के दिव्य और भव्य कुम्भ की कल्पना को साकार करने के लिए अधिकारी भी लगातार कुम्भ क्षेत्र का निरीक्षण कर कार्यो की समीक्षा कर रहे है । इसी क्रम में आगरा मंडल के मंडल आयुक्त अमित गुप्ता वृन्दावन पहुंचे और पर्यटन सुविधा केंद्र पर अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की ।

बैठक में विकास कार्यो की समीक्षा के बाद मंडलायुक्त का काफिला कुम्भ क्षेत्र में पहुँच गया और कमिश्नर को मेलाधिकारी नगेन्द्र प्रताप ने बताया कि भूमिगत पाइप डालकर गंगाजल की व्यवस्था की गई है। दो-तीन दिन में गंगा जल की सप्लाई शुरू हो जाएगी । मंडल आयुक्त ने अस्थायी रैंप का निर्माण कार्य भी देखा।

मंडलायुक्त ने कुम्भ स्थल क्षेत्र का निरीक्षण कर स्वीकृत कार्यों को जल्द से जल्द पूरा करने और विद्युत व्यवस्था सुचारु करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इसे युद्धस्तर पर पूरा किया जाए । मंडलायुक्त करीब पौने घंटे तक कुम्भ स्थल पर रुके ओर सड़क बिजली व शौच व्यवस्था व सफाई की व्यवस्थाओं को देखा । इस दौरान मंडलायुक्त ने सड़क को भी खुदवाकर देखा और उसकी डेनसिटी की जाँच की ।

मथुरा वृंदावन को सजाने संवारने का कार्य प्रगति पर

मंडलायुक्त समीक्षा बैठक में मेलाधिकारी नागेंद्र प्रताप ने बताया कि कुंभ में भारी संख्या में श्रद्धालु पहुंचेंगे । अलग-अलग क्षेत्रों में पार्किंग का कार्य किया जा रहा है। मंडलायुक्त ने नगर आयुक्त को भी निर्देश दिए कि वृंदावन चित्र एवं मथुरा में चित्रकार से स्लोगन एवं रंगाई पुताई का कार्य भी किया जाए जिससे आने वाले श्रद्धालु वृंदावन कुंभ की खूबसूरती का एहसास कर सकें। इस संबंध में dm नवनीत चहल ने बताया कि करीब 20 हज़ार साधुओं के कुम्भ मेला में आने की संभावना है वही लाखों की संख्या में श्रद्धालुओं के आने की संभावना को देखते हुए ही व्यवस्थाएं कराई जा रही है ।

डीएम ने निर्माण कार्य में तेजी लाने के लिए निर्देश

जिलाधिकारी ने मथुरा से वृन्दावन रोड़ पर हो रहे धीमी गति से जल निगम के कार्यों पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि 5 फरवरी तक अपने कार्यों को पूर्ण कराना सुनिश्चित करें। इसमें यह भी स्पष्ट कर दिया है कि बाहर से आने वाले साधु-संतों को कोविड नेगेटिव का प्रमाण पत्र लाना होगा। कोविड जांच के लिए स्थानीय स्तर पर भी व्यवस्था रहेगी। मेला में कोविड का हास्पिटल भी बनाया जाएगा।

बैठक में ये रहे मौजूद

निरीक्षण से पहले मंडलायुक्त ने टीएफसी भवन में कुंभ कार्यों की प्रगति की समीक्षा भी की। समीक्षा बैठक में जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल, एसएसपी डॉ0 गौरव ग्रोवर ने भी कुंभ को लेकर विस्तृत चर्चा की। इस मौके पर नगर आयुक्त रविन्द्र कुमार, ज्वांइट मजिस्ट्रेट दीक्षा जैन, अपर जिलाधिकारी प्रशासन सतीश कुमार त्रिपाठी, उप जिलाधिकारी सदर क्रांति शेखर सिंह आदि मौजूद रहे।

Read Previous

शीतला धाम मंदिर का रास्ता हुआ बद से बद्त्तर

Read Next

कासिमाबाद अधिकारी व अधिवक्ता एक पेड़ के दो टहनी-भारत भार्गव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!