the jharokha news

मुख्तार अंसारी पर और कसा शिकंजा,  दोनों बेटों अब्बास और उमर पर केस दर्ज 25-25 हजार के इनामिया घोषित

लखनऊ :  बसपा के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी उनके बेटों पर कानून का शिकंजा कसता जा रहा है।  प्रदेश सरकार के निर्देश पर पुलिस ने अंसारी के दोनों बेटों अब्बास और उमर अंसारी पर केस दर्ज करते हुए पच्चीस- पच्चीस हजार का इनामिया घोषित कर दिया है। बताया जा रहा है कि इस समय पंजाब की रोपड़ जेल में बंद मुख्तार अंसारी के खिलाफ भी वारंट तैयार कर दिया है। यह कार्रवाई लखनऊ के पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय की ओर से राजधानी लखनऊ के डालीबाग इलाके में सरकारी जमीन पर अवैध निर्माण करने के मामले में की गई है।
बता दें कि पुलिस के मुताबिक गाजीपुर, आजमगढ़ और मऊ जिले में मुख्तार गिरोह के कब्जे से काफी जमीन मुक्त कराई गई है। सूत्रों के मुताबिक करीब 120 करोड़ रुपए की संपत्ति गिरोह के अवैध कब्जे से मुक्त कराई जा चुकी है।

इस मामले में कार्रवाई

इस संबंध में पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडे ने बताया कि हजरतगंज क्षेत्र के डालीबाग इलाके में निष्क्रांत जमीन (शत्रु संपत्ति)  पर कब्जा करके दो टावरों का निर्माण कराने के मामले में मुख्तार और उनके बेटों अब्बास और  उमर के खिलाफ एफआईआर दर्ज है। इस मामले में एलडीए की ओर से 27 अगस्त को कार्रवाई की गई थी और दोनों टावरों को ढ़हा दिया गया था।

लेखपाल ने दर्ज करवाया था मुकदमा

जियामऊ इलाके के लेखपाल सुरजन पाल की ओर से इस मामले में मुख्तार अंसारी और उनके बेटों  के खिलाफ हजरतगंज कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया गया था। इस मामले में तीनों के खिलाफ साजिश रचने, जालसाजी और जमीन पर अवैध कब्जा करने का आरोप लगाया गया है।

यह है मामला

लखनऊ के हजरतगंज  कोतवाली में दर्ज इस एफआईआर में सुरजन पाल ने आरोप लगाया है की जिस जमीन पर मुख्तार के बेटों ने टावर बनवाए थे, वह मोहम्मद वसीम की थी। वसीम के 1952 में पाकिस्तान चले जाने के बाद यह संपत्ति निष्क्रांत के रूप में दर्ज की गई थी।  मगर विधायक मुख्तार के बेटों ने जमीन का फर्जी दस्तावेज तैयार कराकर दो टावरों का निर्माण करा लिया। उन्होंने जमीन पर एक मस्जिद भी बना ली थी। इस बाबत हजरतगंज पुलिस का कहना है कि मुख्तार कि वारंट भी तैयार है।   कोर्ट के आदेश पर आगे की कार्रवाई होगी।

मुख्तार गिरोह के 100 लोगों की हो चुकी है गिरफ्तारी

पुलिस रिपोर्ट के मुताबिक  पूर्वांचल के विभिन्न जिलों में गिरोह का अवैध धंधा संभालने वालों के खिलाफ शिकंजा कस दिया गया है। अभी तक ऐसे सौ लोगों की गिरफ्तारी की जा चुकी है। इनमें से 78 के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कराया गया है।

मुख्तार की पत्नी व सालों पर लगा गैंगस्टर एक्ट

उल्लेखनीय है कि मुख्तार अंसारी की पत्नी आफसा अंसारी और उनके दो भाइयों  शरजील रजा और अनवर शहजाद पर गैंगस्टर की कार्रवाई की गई है। इन सभी के खिलाफ गाजीपुर कोतवाली में मुकदमा दर्ज किया गया है। इन पर मुख्तार के साथ मिलकर संगठित आपराधिक गिरोह के रूप में काम करने का आरोप लगाया गया है।

  • krishna janmashtami
    यह भी पढ़े

Read Previous

मेडिकल कॉलेज की तीसरी मंजिल से कूदा कोरोना मरीज,  मौत

Read Next

शेरे -ए-नैशनल पैंथर पार्टी पंजाब की अहम बैठक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!