Youtube Channel Image
अंग्रेजी में भी पढ़ें अब समाचार अंग्रेजी में भी पढ़ें
मुफ्त पढ़ें

the jharokha news

मुख्तार के करीबी गणेश मिश्र का असलाह लाइसेंस निलंबित

  • गाजीपुर के श्रीराम कॉलीनी रौजा का रहने वाला है प्रॉपर्टी डीलर गणेश दत्‍त मिश्र
  • प्रभारी निरीक्षक दिलीप कुमार की सिफारिश पर डीएम ने निलंबित किया हथियारों का लाइसेंस

गाजीपुर : जिलाधिकारी गाजीपुर ने मऊ के विधायक मुख्‍तार अंसारी के गरीबी गणेश दत्‍त मिश्र का असलाह लाइसेंस रद कर दिया है। बताया जा रहा है गाजीपुर के रौजा का रहने वाला गणेश मिश्र पुत्र शिवशंकर मिश्र प्रॉपर्टी डीलर है। जिलाधिकारी गाजीपुर ने यह कार्रवाई प्रभारी निरीक्षक थाना कोतवाली गाजीपुर की संस्‍तुति पर की है।

यह है मामला

मामले के अनुसार प्रभारी निरीक्षक थाना कोतवाली दिलीप कुमार ने शहर के श्री राम कॉलोनी रौजा निवासी गणेश दत्‍त मिश्र को मुख्‍तार गैंग का सदस्‍य मानते हुए उसके दो असलाह लाइसेंसों को जिलाधिकारी से रद करने की सिफारिश की थी। यह सिफारिश उन्‍होंने इसी साल एक दस सितंबर को की थी। इसी सिफारिश पर कार्रवाई करते हुए जिलाधिकारी एमपी सिंह ने गणेश दत्‍त के दो हथियारों शस्त्र लाइसेंस नम्बर – 1219/P । ( एन0पी0बी0 राइफल .315 बोर नं0- AB-005639 ) व  शस्त्र लाइसेंस नम्बर – 1799/P । (एन0पी0बी0 पिस्टल .32 बोर नम्बर – CO-2050) को निलंबित कर दिया।

कभी बाइक पर चलता था गणेश, आज अकूत संपत्ति का मालिक

कहा जाता है कि कभी बाइक पर चलने वाले रौजा निवासी गणेशदत्‍त मिश्र के इतनी हैसियत नहीं थी कि वह असलाह खरीद सके। लेकिन मुख्‍तार गैंग से जुड़ने के बाद वह अकूत संपत्ति का मालिक बन गया। गणेश के बारे में कहा जाता है कि जब गाजीपुर के तत्‍कालीन एएसपी उदय शंकर जायसवाल की लंका बस स्‍टैंड पर मुख्‍तार से मुठभेड़ हुई थी उस समय जान बचाने के लिए भागे मुख्‍तार को इसी गणेश मिश्र ने अपनी बाइक पर सुरक्षित जिलाधिकारी आवास पर पहुंचाया था। तभी से गणेश और मुख्‍तार के करीब आ गया था। और यहीं वह अकूत संपत्ति का मालिक बनता गया और अब वह मशहूर प्रॉपर्टी डीलर बन गया है।

 







Read Previous

कुत्‍ते को शौच कराने पर चली गोलियां

Read Next

कोरोना से बचाता है आयुर्वेदिक काढ़ा : डॉ: सूद

Leave a Reply

Your email address will not be published.

x