उत्तर प्रदेश

स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही जांच किए, बगैर करोना टेस्ट निकाला पॉजिटिव

  • कोरोना के खेल में आला अधिकारी कर रहे, फर्जीवाड़ा
  • सीएमओ गाजीपुर के ऊपर हो सकती है, कार्यवाही की मांग
  • कोरोना के फर्जी मरीज बनाने वाले अधिकारियों पर कौन लगाएगा, लगाम

गाजीपुर। खानपुर क्षेत्र के खरौना निवासी रविन्द्र नाथ का जांच किये बगैर कोरोना टेस्ट पॉजिटिव निकलने पर रबिन्द्रनाथ दहशत में है। रबिन्द्रनाथ सिंह ने बताया कि शुक्रवार की शाम जिले से कोविड पॉजिटिव लोगों की लिस्ट जारी की गई। कोरोना पॉजिटिव लिस्ट में रविन्दनाथ निवासी खरौना, रामपुर देखते ही हिन्दी दैनिक समाचार पत्र परफेक्ट मिशन के ब्यूरो चीफ रबिन्द्रनाथ का माथा ठनका। उन्होंने इसकी जानकारी जब सैदपुर चिकित्सा अधीक्षक संजीव सिंह से ली।

तब पता चला कि उनके आधार कार्ड पर टेस्ट फॉर्म भरा गया है और मोबाइल नम्बर किसी और का दर्ज है। कोविड प्रभारी अधिकारियों ने रबिन्द्रनाथ को कोरेण्टाइन करने और गांव और परिवार के लोगों से दूर रखने के लिए संबंधित आंगनबाड़ी कार्यकर्ती और लेखपाल ग्रामप्रधान को दिशा निर्देश भी जारी कर दिया है। कोरोना पॉजिटिव आने की सूचना मिलते ही रबिन्द्रनाथ स्वास्थ्य विभाग के खिलाफ कानूनी कार्यवाही करने की तैयारी में लग गये। उन्होंने बताया कि किसी भी व्यक्ति को कोरोना पॉजिटिव बताकर उनके नाम पर शोषण करने का कुत्सित प्रयास है।

सूत्रों से पता चला है कि जिले के कई स्वास्थ्य अधिकारियों की मिली भगत से सरकार द्वारा दी जा रही कोविड में इलाज की धनराशि का जम कर दोहन ही नही बल्कि फर्जी तरीके से लिस्ट में नाम जोड़कर योगी और मोदी सरकार को बदनाम करने का काम गाजीपुर में चल रहा हैं। जिसका जीता जागता नमूना आप देख सकते है। कि मोबाइल नम्बर, ब्लॉक आदि गलत है। और तो औऱ बिना जाँच के ही पॉजिटिव का खेल खेला जा रहा है। नाम न छापने की शर्त पर कई लोगो ने बताया कि इस खेल में जिलाधिकारी नपे अब सीएमओ की बारी हो सकती है।

Jharokha

द झरोखा न्यूज़ आपके समाचार, मनोरंजन, संगीत फैशन वेबसाइट है। हम आपको मनोरंजन उद्योग से सीधे ताजा ब्रेकिंग न्यूज और वीडियो प्रदान करते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button