the jharokha news

Ghazipur News: मोहमदपुर के उपेन्द्र यादव का गोविन्दपुर में मिला खून से सना शव

मोहमदपुर के उपेन्द्र यादव का गोविन्दपुर में मिला खून से सना शव

झाड़ियों में पड़ा उपेंद्र यादव का शव।

Ghazipur News रजनीश कुमार मिश्र (बाराचवर) । बलिया जिले के थाना क्षेत्र नरही के गांव गोविंदपुर में खून से सने एक अधेड़ व्यक्ति का शव मिलने से लोगों में लड़कंप मच गया। यह शव बिहार की सीमा से लगे गांव गोविंदपुर भरौली गांव के प्राइमरी स्कूल के पीछे झाड़ियों से बरामद हुआ है। ग्रामीणों द्वारा शव बरामद होने की सूचना पा कर मौके पर पुलिस टीम सिहत पहुंचे थानाध्यक्ष ने शव का पंचनामा करवा कर उसे जिला अस्पताल बलिया पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

इस संबंध में थानाध्य ने बताया कि पहले तो शव की शिनाख्त नहीं हो पा रही थी। मृतक के कपड़ों की जब तलाशी ली गई तो उसकी जेब से 13000 रुपये और एक डायरी बरामद हुई। उन्होंने बताया कि इस डायरी के आधार पर मृतक की शिनाख्त Ghazipur गाजीपुर जिले थाना क्षेत्र बरेसर के गांव मोहमदपुर निवार 50 वर्षीय उपेंद्र यादव पुत्र रामजन्म यादव के रूप में हुई है।

थाना ध्यक्ष ने बताया कि डायरी से मिले पते के आधार पर उपेंद्र यादव के परिजनों को सूचित किया गया। मौके पर पहुंचे परिजनों ने शव की तस्दीक की। थाना प्रभारी ने बताया कि शव बुधवार को सुबह मिला था। पुलिस ने बताया की शिनाख्त होते ही शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया ।

पशु मेले में चौसा गया था उपेंद्र यादव

परिजनों ने पुलिस को बताया की उपेन्द्र पशु व्यापारी था । वो पशुओं को लेकर विहार के चौसा में लगने वाले पशुमेला में पशुओं को बेचने गया हुआ था। पशुओं को मेले में बेच कर वापस आते वक्त ये घटना घटी है। वही पुलिस ने बताया की मृतक के जेब से तेरह हजार रूपये बरामद हुए है। जो परिजनों को सुपुर्द कर दिया गया है।

मामले की जांच की जा रही है

पुलिस ने बताया की परिजनों के तरफ से अज्ञात के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कराया गया है। जल्द ही आरोपियों को पकड़ लिया जायेगा। थानाध्यक्ष ने बताया कि इस मामले की हर एंगल से जांच की जा रही है। उपेंद्र के परिजनों का कहना है कि उनकी किसी से कोई रंजिश नहीं थी।

कहीं अवैध संबंधों में तो नहीं हुई हत्या

पुलिस के मुताबिक मृतक की जेब से 13000 रुपये बरामद हुए है। अगर यह मामला लूट का होता तो लुटेरे रुपये भी अपने साथ ले जाते। परिजनों ने आपसी रंजिश से इंकार किया है। अगर यह मामला सड़क हादसे का होता तो शव स्कूल के पीछे झाड़ियों तक कैसे पहुंचता। ऐसे अंदेशा है कि उपेंद्र की हत्या अवैध संबंधों के चक्कर में हुई हो सकती है। फिलहाल पुलिस का कहना है कि मामले की हर एंगल से जांच की जा रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के सही कारणों का पता चल सकेगा।







Read Previous

रविवार को नहीं, इस स्कूल में शुक्रवार को होती है छुट्टी, बागपत के भेड़सर गांव का है मामला

Read Next

बहु पर ससुर ने किया चाकुओं से जानलेवा हमला, घटना का वीडियो वायरल