the jharokha news

कोरोना से बचना है तो अपनाएं ये फार्मूला, दूर-दूर तक नहीं आएगा Corona

कोरोना से बचना है तो अपनाएं ये फार्मूला, दूर-दूर तक नहीं आएगा कोरोना

कोरोना से बचना है तो अपनाएं ये फार्मूला, दूर-दूर तक नहीं आएगा कोरोना फोोटो: सोशल साइट्स

हेल्थ डेस्क
आज पूरा देश कोरोना की दूसरी लहर से जूझ रहा है। आए दिन कुछ घटनाएं सामने आ रहीं जिससे मानवता शर्मशार हो रही है तो, वहीं दूसरी ओर कुछ ऐसे लोग भी हैं जो मानवता की मिसाल पेश कर रहे है। तो कोई कोरोना पीड़ितों की जान बचाने के लिए किसी देवदूत की तरह काम रहा है।
भारत सरकार और देश सभी राज्यों की सरकारें अपने नागरिकों की जान बचाने के लिए कोरोना संक्रमितों का टीका करण करने के साथ-साथ उनके उपचार के भी बेहतर संसाधनों को एकत्र कर उपलब्ध करवाने में लगी है। लोगों के संक्रमित होने, उनके ठीक होने और संक्रमितों के मरने की खबरें भी आ रही है। लेकिन इन सबके बीच सरकार ने लाकडाउन और रात्रि कर्फ्यू सहित तमाम कठोर कदम उठा रही कि कोरोना संक्रमण की बढ़ती चेन को तोड़ा जा सके। इस लिए सरकार ने कोविड प्रोटोकॉल जारी कर रखा है। जिसके तहत मास्क और दो गज की दूरी के साथ साथ सोशल डीस्टेंसिंग जैसे नियम भी बना रखें है।

इसके साथ ही हाथों को साबुन से धोना और सैनिटाइज करने को भी कहा जा रहा है। इस बीच भारत सरकार के आयुषमंत्रालय ने यूमीनिटी यानी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए कुछ घरेलु नुस्खे सांझा किए है, जिसे अपना कर हम कोरोना जैसी महामारी को मात दे सकते हैं। यह औषधि हम सभी के घरों में होती है। आइए जानते हैं कैसे बढ़ाएं रोग प्रतिरोधक क्षमता-

 आम उपाय

  • पूरा दिन केवल गरम पानी का सेवन करें।
  • आयुष मंत्रालय की सलाह के अनुसार रोज कम से कम 30 minute योगासन, प्राणायाम और ध्यान करना।
  • हल्दी जीरा धनिया और लहसुन आदि मसाला का भोजन बनाने में उपयोग करें।

 रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के आयुर्वेदिक उपाय

  • रोज 10 ग्राम चवनप्राश का सेवन करना / मधुमेह रोगी शुगर फ्री चवनप्राश का सेवन करें।
  • तुलसी दालचीनी, काली मिर्च, मुंडा और मुनक्का के साथ बनी हर्बल चाय/ काढ़ा दिन में एक यादो बार लेना चाहिए। इसमें कागदी नींबू जरूरत के अनुसार मिलाया जा सकता है।
  • Golden milk – यानी हल्दी वाला दूर्ध : १५० गर्म दूध में आधा चम्मच हल्दी मिलाकर दिन में एक से दो बार लें।

आम आयुर्वेदिक उपाय

  • नसिया : सुबह शाम नाक के दोनों साइडों में तिल का तेल या नारियल का तेल अथवा देसी घी लगाएं।
  • एक चम्मच तिल्ली का तेल या नारियल तेल को मुख में रखकर दो से तीन मिनट कुल्ले की तरह मुंह में घुमाऐ और उसको निकालने के बाद गरम पानी के साथ मुंह को साफ करें।

 खांसी और गले की खराश के लिए

  • दिन में कम से कम एक बार पुदीने के पत्ते अजवाइन को पानी मैं डाल के उबालें।
  • खांसी या गले की खराश होने पर लोंग के चूर्ण मैं गुड़ या शहद मिला के दिन में एक से दो बार ले़। यह उपाय आम सूखी खांसी और गले की खराश के लिए लाभदायक है फिर भी और लक्षण होने पर बिना कसी देर के डॉक्टर की सलाह अवश्य लें।
  • krishna janmashtami
    यह भी पढ़े

Read Previous

पातेपुर का रहने वाला फर्जी टीचर गिरफ्तार, पढ़ा रहा था गड़ेशर में, 2020 में कर दिया गया था बर्खास्त

Read Next

पंजाब पुलिस की वर्दी पर कलंक की कालिख, CIA के ASI ने विधवा से किया दुष्कर्म, लोगों ने नंगा कर के पीटा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!