the jharokha news

पाकिस्तानी लड़कियां भारतीय लड़कों से करना चाहती हैं शादी, आखिर क्या है वजह, पढ़ें पूरी खबर

पाकिस्तानी लड़कियां भारतीय लड़कों से करना चाहती हैं शादी, आखिर क्या है वजह, पढ़ें पूरी खबर

प्रतिकात्मक फोटो। स्रोत : इंटरनेट मीडिया से

मिर्जापुर । उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर में पहुंचे प्रदेश के श्रम एवं सेवायोजन राज्यमंत्री ठाकुर रघुराज सिंह ने विभिन्न विभागों के साथ बैठक कर विकास योजनाओं के बारे में जानकारी ली । इसके बाद पत्रकारों से वार्ता किया। उन्होंने अधिकारियो को सैस का अंश तत्काल जमा करने को कहा । उन्होंने भारत में विकास की चर्चा करते हुए कहा कि पाकिस्तान की लड़कियां भी अब हिंदुस्तानी लड़कों से विवाह करने को बेताब है । उनका मानना है कि भारत में विवाह करने पर 60 साल तक जिंदगी सिक्योर हो जायेगी । जबकि पाकिस्तान में विवाह करने पर कभी भी तलाक मिल सकता हैं ।

विंध्याचल स्थित अष्टभुजा गेस्ट हाउस में श्रम एवं सेवायोजन मंत्री ने बताया कि श्रमिकों के कल्याण के लिए प्रदेश के 18 मंडलों में 18 अटल आवासीय विद्यालय श्रमिकों के बच्चों के लिए संचालित किया गया है । जहा रहना, खाना और पढ़ाई मुफ्त है । प्रदेश में सरकारी गैर सरकारी सभी प्रकार के निर्माण के दौरान श्रम विभाग 1% सैस वसूल करता है । उससे श्रमिकों के बच्चों के उत्थान के लिए शिक्षा, विवाह के साथ ही श्रमिक परिवारों के उत्थान के लिए अन्य विकास के कार्य संचालित किए जाते हैं । अधिकारियों से वार्ता के दौरान उन्होंने कहा कि विभाग के पास शेष की राशि बकाया हो वह जमा कर दिया जाए । जिससे श्रमिकों के लिए कल्याणकारी योजनाएं संचालित होती रहे ।

ठाकुर रघुराज सिंह, श्रम एवं सेवायोजन राज्यमंत्री ने भारत में विकास के बढ़ते कदम की सराहना करते हुए कहा कि इसका असर पड़ोसी देश पाकिस्तान की लड़कियों पर भी पड़ रहा है । वह अब हिंदुस्तान की लड़कों से शादी करना चाहती हैं । उनका कहना है कि पाक में निकाह करने पर न जाने कब तलाक मिल जाए और भारत में विवाह करने पर 60 साल तक की जिंदगी सिक्योर हो जाती है । यह लोगों का बदलते भारत की तस्वीर और विश्वास है







Read Previous

Ghazipur news : बाराचवर के सामुदायिक शौचालय का ये हाल तो औरों का क्या होगा

Read Next

तीन दिन से लापता प्रेमी-प्रेमिका ने खाया जहर, मौत