the jharokha news

शौचालय की खिड़की को तोड़कर कोरोना पॉजिटिव रोगी भाग गया, वार्ड के बाहर सुरक्षा कर्मचारी नहीं थे

प्रयागराज के स्वरूपरानी अस्पताल में भर्ती एक कोरोनाफार्म कैदी शौचालय की खिड़की तोड़कर फरार हो गया।

  • एसआरएन अस्पताल के कोविड 19 लेवल 3 वार्ड में भर्ती मरीज था
  • तीन दिन पहले ही नैनी सेंट्रल जेल से जांच के लिए आया था कैदी

उत्तर प्रदेश की संगम नगरी प्रयागराज के सेंट्रल जेल नैनी का एक कोरोनाचरण कैदी शनिवार को स्वरूप रानी नेहरू अस्पताल के कोविड 19 वार्ड के शौचालय की खिड़की तोड़कर फरार हो गया है। तीन दिन पहले ही वह नैनी सेंट्रल जेल आया था और जांच में कोरोनाटे पाया गया था। कैदी के फरार होने के बाद जेल प्रशासन और सिविल पुलिस ने उसे बहुत ढूंढ का प्रयास किया लेकिन उसका पता नहीं चला। उसके खिलाफ शहर कोतवाली में फरारी का मुकदमा दर्ज किया गया है। उसकी सुरक्षा ड्यूटी में तैनात पुलिस विभाग के दोनों सिपाहियों के खिलाफ जांच चल रही है।

पुलिस के अनुसार अनुआ गांव निवासी सुशील भरतिया को फूलपुर कोतवाली पुलिस ने मुकदमा अपराध संख्या 396/20 के तहत धारा 411, 414 आईपीसी के तहत गिरफ्तार करके एक सितंबर को नैनी सेंट्रल जेल भेजा था। उस पर चोरी और डकैती के सामान ठिकाने लगाने का आरोप था। जेल में दाखिल करने से पहले उसका कोविड 19 टेस्ट हुआ था, जिसमें वह कोरोना पॉजिटिव पाया गया था। जिसकी वजह से उसे जेल में बने कोविड 19 हेल्थ सेंटर में रखा गया था।

तबियत खराब होने के बाद स्वरूप रानी अस्पताल में भर्ती कराया गया था

पांच सितंबर को सुबह करीब दस बजे वह अचानक स्वास्थ्य केंद्र परिसर में ही गिर गया और तड़के लगा दिया। उसके मुंह से झाग निकलने लगा था। जिससे जेल में हड़कंप मच गया। स्वास्थ्य केंद्र में मौजूद चिकित्सक ने जांच पड़ताल की तो पता चला कि उसके शरीर अकड़ रहा है। आनन-फानन में उसे स्वरूपानी नेहरू चिकित्सालय भेज दिया गया। वहां उसे 19 वीं वार्ड में भर्ती कराया गया था।

वार्ड के अंदर बने शौचालय से भागा

सुरक्षा ड्यूटी पर तैनात सिपाहियों के मुताबिक वह अपना बिस्तर से उठकर वार्ड के अंदर ही बने शौचालय में गया था। उसके बाद लौटा नहीं। जब आधा घंटा से ज्यादा बीत गया तो सिपाहियों ने हस्तक्षेप शुरू किया। शौचालय में जाकर देखा तो पता चला कि शौचालय की खिड़की टूटी हुई है और कैदी सुशील भरतिया गायब है। उसके बाद कंट्रोल रूम और जेल प्रशासन को सूचना दी गई। चौतरफा खोजबीन शुरू हुई लेकिन कुछ पता नहीं चला। उसकी खोजबीन दिन भर जारी हो रही है।

Read Previous

26 हजार से अधिक छात्र हिमाचल, पंजाब और हरियाणा तक पहुंचेंगे, ट्रेन और बसों द्वारा शहर में 65 केंद्रों पर एनडीए की परीक्षाएं आयोजित की जाएंगी

Read Next

पितृपक्ष चढ़ते ही,लोगों ने पितरो को किया याद,पिंड व जल किया अर्पित

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!