the jharokha news

विशाल सिंह चंचल ने जीता चुनाव, सपा के उम्मीदों पर फिरा पानी

विशाल सिंह चंचल ने जीता चुनाव, सपा के उम्मीदों पर फिरा पानी

रजनीश कुमार मिश्र गाजीपुर।गाजीपुर में समाजवादी पार्टी के तमाम बड़े छोटे नेता व गाजीपुर जनपद के सातों विधायक विशाल सिंह चंचल क़ विधान परिषद चुनाव में हराने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगाया था।ताकि विधान परिषद के सीट पर भी सपा को जीत दिलाकर गाजीपुर को भाजपा विहीन कर दिया जाये ।और गाजीपुर जनपद में सिर्फ सपा का परचम लहराता रहे।लेकिन विशाल सिंह चंचल के रणनीति और मैनेजमेंट के वजह से सपा के उम्मीदों पर पानी फिर गया।

तो वही इस सर्वोच्च कुर्सी पर एक बार फिर भाजपा का कब्जा हो गया।विशाल सिंह चंचल के चुनाव जीतते ही सपा के व सपा गठबंधन के सभी विधायक पानी की बुलबुले की तरह हो गये।जैसे पानी में बुलबुल उपर उठता है,और तुरंत ही फुट जाता है।ठीक उसी तरह समाजवादी पार्टी के विधायक भी हो गये।वही गाजीपुर जनपद के सातों विधायकों का भी सहयोग मदन यादव को चुनाव जीतने में काम नहीं आया।और मदन यादव चारों. खाने चीत हो गये।विशाल सिंह चंचल ने मदन यादव से करीब एक हजार सात सौ नब्बे वोटों से चुनाव जीतने में कामयाब हो गये।

विधानसभा चुनाव में हुई थी भाजपा की करारी हार

2022 के विधानसभा चुनाव में गाजीपुर में भाजपा की करारी हार हुई थी।और यहां के सभी सातों विधानसभा में सपा गठबंधन व सपा के विधायक चुनाव जितने में कामयाब हुए थे।तो वही विधान परिषद के चुनाव में भी सपा ये सीट जीतकर भाजपा को चारो खाने चीत करना चाहती थी।लेकिन राजनीति में महारत हांसिल कर चुके विशाल सिंह चंचल ने पुरी बाजी पलटते हुए एकतरफा जीत हांसिल कर लिया।

सपा के असली प्रत्याशी मैदान छोड़ हो गये थे रफूचक्कर

सपा ने भाजपा को गाजीपुर में चारों खाने चीत करने के लिए भदोही सें सैनिक भोलानाथ शुक्ल को मैदान में उतारा था।ताकि विधानसभा में जीत हांसिल करने के साथ ही विधान परिषद की सीट पर भी चुनाव जीत कर गाजीपुर से भाजपा का सफाया किया जा सके।लेकिन सपा को ये पता नहीं था की जिसके खिलाफ वो अपना सैनिक उतारे है।वो अपने ही दम पर जीतने का मादा रखता है।भाजपा प्रत्याशी विशाल सिंह चंचल ने ऐसा गोटी बिछाया की जंग शुरू होने से पहले ही सपा के सैनिक भोलानाथ शुक्ल मैदान छोड़ कर फरार हो गये।

[metaslider id="25450"]





Read Previous

उत्तर प्रदेश में बदल गया स्कूलों का समय, अब खुलेंगे सुबह 7:30 से दो पहर 12:30 बजे तक

Read Next

एशिया के सबसे बड़े गांव गहमर में मिला हैंडग्रेनेड