the jharokha news

अब कांग्रेस के पूर्व विधायक को भी लगने लगा है मुख्तार अंसारी से डर, बताया जान को खतरा


वाराणसी । जिस मुख्तार अंसारी को बचाने का आरोप कांग्रेस पर लग भाजपा लगा रही है उसी कांग्रेस पार्टी एक पूर्व विधायक को अब मुख्तार अंसारी से डर लगने लगा है। यह कोई और नहीं बल्कि उत्तर पदेश के कांग्रेस के पूर्व विधायक अजय राय है। अजय राजय अपने भाई की हत्या के चश्मदीद गवाह और वादी भी हैं। बताया जा रहा है कि अजय राय ने उत्तर प्रदेश मुखिया योगी आदित्य नाथ को पत्र लिख कर सुरक्षा की गुहार लगाते हुए जान को मुख्तार अंसारी से खतरा बताया है। उन्होंने कहा कि यह बाहुबली माफिया डान व मऊ के विधायक मुख्तार अंसारी के खिलाफ यह पहला केस है जिसमें कार्रवाई होनी तय है।


कांग्रेस पर लगा है मुख्तार को संरक्षण देने का आरोप

उल्लेखनीय है कि इस समय माफिया मुख्यतार अंसारी पंजाब की रोपड़ जेल में करी दो साल से बंद है। मुख्तार को लाने के लिए तीन बार उत्तर प्रदेश पुलिस पंजाब गई, लेकिन हर बार पंजाब के रोपड़ जेल प्रशासन ने उसकी बीमारी का हवाला दे कर यूपी पुलिस को बैरंग लौटा दिया। यही नहीं पंजाब की कांग्रेस सरकार पर माफिया मुख्यतार को संरक्षण देने के आरोप भी लगते रहे हैं। खुद पूर्व विधायक कृष्णानंद राय की पत्नी और मुहम्मदाबाद से भाजपा विधायक अलका राय ने भी प्रियंका गांधी को एक नहीं बल्कि तीन बार पत्र कर यह आरोप लगा चुकी हैं।

भाजपा पर लगाया मुख्यतार को बचाने का आरोप

पूर्व विधायक अजय राजय ने अपने आवास पर प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि उनके बड़े भाई अवधेश राय की हत्या में मुख्तार मुख्य आरोिपत है। इलाहाबाद हाईकोर्ट में इसकी सुनवाई ९ फरवरी से शुरू हो रही है, लेकिन उत्तर प्रदेश की योगी सरकार उन्हें सुरक्षा नहीं दे रही।
यही नहीं प्रेस कांफ्रेंस के दौरान अयज राय ने भाजपा सरकार पर मुख्तार अंसारी को बचाने के आरोप भी लागए। उन्होंने कहा िक मेरे भाई के हत्याकांड में मुख्तार अंसारी मुख्य आरोपी है और मैं हत्याकांड का गवाह हूं, लेकिन सरकार नहीं चाहती है कि मैं इस मामले में मुख्तार के खिलाफ कोर्ट में गवाही दूं। इसलिए मेरी सुरक्षा हटा ली गई और मेरे सभी शस्त्र लाइसेंस निरस्त कर दिए गए। ।







Read Previous

मां है या कसाई, आठ माह की बच्ची को जमीन पर पटक-पटक कर पीटा

Read Next

जान लें कैसे होता है ब्लाक प्रमुख का चुनाव, पंचायत चुनाव में काम आएगी यह जानकारी

Leave a Reply

Your email address will not be published.