भतीजा है या कसाई, कुल्‍हाड़ी से ताया की गर्दन किया इतना वार कि उड़गए प्राण

कलियुगी भतीजे ने अपनी ताया की गर्दन पर कुल्‍हाड़ी से इतने वार किए कि उसकी अस्‍पताल लेजाते समय मौत हो गई

0
गुरदयाल सिंह की हत्‍या के बाद स्‍थल पर बिखरा खून।

लुधियान – कलियुगी भतीजे ने अपनी ताया की गर्दन पर कुल्‍हाड़ी से इतने वार किए कि उसकी अस्‍पताल लेजाते समय मौत हो गई। यह मामला पंजाब के लुधियाना जिले की तहसील जगराओं के गांव कोठे खजुरा की है। मृतक की पहचान करीब 80 वर्षीय गुरदयाल सिंह के रूप में हुई है।
बताया जा रहा है कि घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी भतीजा खुद ही थाने जाकर अपना गुनाह कबूल कर लिया है। हलांकि इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है।

भाई के घर शोक व्‍यक्‍त करने गया था गुरदयाल सिंह

मामले के अनुसार हत्‍या का आरोपी विरेंद्र सिंह की बहन कुछ दिन पहले आस्ट्रेलिया में मौत हो गई थी । इसका शोक व्‍यक्‍त करने गुरदयाल सिंह अपने भाई हरदयाल सिंह के घर गया था । उस समय उसके साथ गांव से कुछ और लोग भी संवेदना व्‍यक्‍त करने गए थे। बताया जा रहा है कि शोक व्‍यक्‍त कर जब वह लोग उनके घर से चले गए तो विरेंद्र सिंह ने कुल्हाड़ी उठाया और पीछे से अपने ताया गुरदयाल सिंह के गर्दन और सिर पर वार कर दिए। गंभीर रूप से जख्‍मी गुरदयाल वहीं पर गिर कर छटपटाने लगा।

शोर सुन कर मौके पर पहुंचे लोगों ने गुरदयाल को जगराओं के एक निजी अस्‍पताल में ले गए। लेकिन, गुरदयाल की हालत गंभीर होने के कारण उसे डॉक्टर ने प्राथमिक उपचार के बाद लुधियाना के लिए रेफर कर दिया। लेकिन, लुधियान अस्‍पताल पहुंचने से पहले ही गुरदयात ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया।

आरोपी की मनोदशा ठीक नहीं

ग्रागीणों का कहना है कि आरोपी विरेंद्र सिंह की मनोदशा ठीक नहीं है। वह दिमागी तौर पर परेशान रहता है। इसकी परेशानी में उसने अपने सगे ताया का कुल्‍हाड़ी से कत्‍ल कर दिया। इस संबंध में थाना सिटी के प्रभारी निधान सिंह ने कहा कि मामला दर्ज कर लिया है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है। आरोपी के गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here