the jharokha news

मोहम्दाबाद की विधायक व स्व कृष्णानंद की पत्नी अलका राय ने लिखा प्रियंका गांधी को खत

मोहम्दाबाद की विधायक व स्व कृष्णानंद की पत्नी अलका राय ने लिखा प्रियंका गांधी को खत

रजनीश कुमार मिश्र बाराचवर (गाजीपुर) मुहम्मदाबाद की भाजपा विधायक व स्व कृष्णानंद की पत्नी अलका राय ने प्रियंका गांधी को एक खत लिखा है।

अलका राय ने कांग्रेस पंजाब सरकार पर आरोप लगाया है,की आप की पार्टी मुख्तार अंसारी को खुला संरक्षण दे रही है.अलका राय ने ये खत उत्तर प्रदेश के कोर्ट में हो रहे पेशी के संदर्भ मे लिंखा है।

सोशलमीडिया पर अलका राय का खत हो रहा वायरल

मुहम्मदाबाद विधायक अलका राय द्वारा प्रियंका गांधी को लिखा खत सोशलमीडिया पर जम कर वायरल हो रहा है। खत मे अलका राय ने लिखा है,की आप की पंजाब कांग्रेस सरकार मोख्तार अंसारी को उत्तर प्रदेश के अदालतो में तलब किया जा रहा है,परंतु आप की पंजाब राज्य की सरकार मुख्तार अंसारी को उत्तरप्रदेश के अदालतों में भेजने को तैयार नहीं है।

आगे अलका राय ने लिखा है,की पंजाब की कांग्रेस सरकार बाहुबली विधायक को खुला समर्थन दे रही है। विधायक ने प्रियंका गांधी को खत मे लिखा की मुझ जैसी सैकड़ो को आप के पंजाब सरकार द्वारा न्याय से बंचित कर रही है।

पंजाब कांग्रेस सरकार बनाती है,बहाना

आगे खत में मोहम्दाबाद विधायक व स्व कृष्णानंद की पत्नी अलका राय ने लिखा की आप की पंजाब सरकार मुख्तार अंसारी को उत्तर प्रदेश के अदालतों में तलब होने से बचाने के लिए कोई ना कोई बहाना बनाकर रोक दे रही है।

उन्होंने खत में आगे लिखा की आप के अंदर थोड़ी भी संवेदना होगी तो मुख्तार अंसारी को सजा दिलाने में मेरी मदद करेंगी।व मेरे खत का जबाब भी देंगी। अलका राय के इस खत के वायरल होने के बाद राजनीतिक गलियारों में चर्चाएं तेज हो गई है।

युपी पुलिस पंजाब मुख्तार को गई थी,लाने बैंरग आई वापस

बताते चले की युपी पुलिस कुछ दिन पुर्व पंजाब जेल में शिफ्ट मऊ के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को कोर्ट में तलब करने हेतु पंजाब गई हुई थी।परंतु मेडिकल रिपोर्ट के आधार पर पंजाब कांग्रेस सरकार ने मुख्तार अंसारी को युपी लाने की इजाजत नहीं दी तब युपी पुलिस खाली हाथ वापस लौट आई।

यह भी पढ़े   पार्षद, निगम व फोकल पॉइंट एसोसिएशन के प्रधान का छूटा पसीना




Read Previous

खंभे से टकराया वाहन, टूट कर गिरा हाई वोल्टेज तार

Read Next

हाथरस कांड सुप्रीम कोर्ट का फैसला- इलाहाबाद HC की निगरानी में होगी CBI जांच, राज्य से बाहर नहीं शिफ्ट होगा केस का ट्रायल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *