हत्या की नीयत से जा रहें,दो अपराधियों को बरेसर पुलिस ने पकड़ा

Two criminals arrested by the intention of killing, the police arrested

0
हत्या की नीयत से जा रहें,दो अपराधियों को बरेसर पुलिस ने पकड़ा

रजनीश कुमार मिश्र बारचवर (गाजीपुर) उत्तर प्रदेश के गाजीपुर जनपद के बरेसर पुलिस को बुधवार की शाम बड़ी कामयाबी हाथ लगी है।
वाहन चेकिंग करते समय हत्या की नियत से जा रहें दो अपराधियों को पकड़ कर जेल भेज दिया है।
पुलिस ने बताया की थाने क्षेत्र के ही अलावलपुर जहुराबाद मार्ग पर बुधवार की शाम को पुलिस अधीक्षक डाक्टर ओमप्रकाश के निर्देश पर वाहन चेकिंग किया जा रहा था।तभी एक काले रंग की मोटरसाइकिल पर सवार दो व्यक्ति आते हुए दिखाई दिये। पुलिस ने उन्हें रोकने का इसारा किया तो वो रुकने के वजाय उपनिरीक्षक जितेन्द्र उपध्याय के पर पिस्टल से फायर कर मोटरसाइकिल छोड़ भागने लगे। लेकिन पुलिस ने बहादुरी दिखाते हुए भाग रहें अपराधियों को दौड़ाकर पकड़ लिया और थाने लेकर चले आये ।
बरेसर थानाध्यक्ष संजय मिश्र ने बताया कीअभिषेक यादव पुत्र हरिकिशुन यादव राजापुर कला थाना कासिमाबाद व निखिल यादव पुत्र शेरु यादव परसुपूर बरेसर को पकड़ा गया है।बरेसर थानाध्यक्ष संजय मिश्र ने बताया की पुछताछ में इन्होने बताया की हम लोग कासिमाबाद बाद में अबैध गांजा बेचने जा रहें थे। उसके उपरांत संतलाल बर्मा निवासी कटया थाना कासिमाबाद की हत्या कर देते । क्यो की संतलाल बर्मा मुखबिरी कर हम लोगों को जेल भेजवाया था।
पुलिस ने जब सख्ती के साथ पुछताछ किया तो अपराधियों ने और वारदातों में होने की बात स्वीकारी।

पुलिस टीम पर किया, फायर

बरेसर थानाध्यक्ष संजय मिश्र ने बताया की मय पुलिस फोर्स जिसमें जिसमें थानाध्यक्ष संजय मिश्र,उपनिरीक्षक जितेन्द्र उपध्याय,कां अवधेश राणा,कां अभिषेक यादव,कां यशवंत सिंह, कां चालक सुधीर शुक्ला,दुर्गेश खरवार व महिला कां खुशबू पाठक के साथ वाहन चेकिंग कर रहें थे।
तभी एक मोटरसाइकिल पर सवार दो युवक अभिषेक व निखिल आते हुए दिखाई दिये इन्हे रोकने पर इन्होंने पुलिस टीम को निशाना बनाते हुए फायर कर दिया।जिसमे उपनिरीक्षक जितेन्द्र उपाध्याय के बगल से गोली निकल गई और वो बाल बाल बच गये।थानाध्यक्ष ने बताया की फायर करने के बाद मोटरसाइकिल वहीं छोड़ पैदल ही भागने लगे।लेकिन जवानो ने दिलेरी दिखाते हुए दोड़ाकर पकड़ लिया.
वहीं कुछ प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया की एक कांस्टेबल जिसको यसवंत सिंह कह रहें थे।वो अपने जान की परवाह किये बगैर ही अपराधियों को दौड़ा लिए उनके साथ अन्य पुलिसकर्मी भी मौके पर पहुंच कर भाग रहें अपराधियों को पकड़ लिया।

न्यायीपुर प्रधान पर हुए हमले में, भी थे शामिल

बरेसर थानाध्यक्ष संजय मिश्र ने बताया की कुछ महिने पहले हुए न्यायीपुर प्रधान भरत राम उर्फ भागी पर हुए हमले में भी ये शामिल थे।
पुलिस ने बताया की पुछताछ में इन्होंने बताया की पुर्व मे न्यायीपुर प्रधान भरत राम पर जो जानलेवा हमला हुआ था।उसमें भी हम लोग शामिल थे,अभिषेक यादव ने बताया की इसी पिस्टल से भरत राम पर हमने फायर किया था।लेकिन मीस फायर के वजह से वो बच गये।
थानाध्यक्ष ने बताया की तलाशी के दौरान अभिषेक यादव के पास से एक अदद देशी पिस्टल 32बोर व दो जिंदा कारतूस 32बोर व दो मोबाइल फोन व 6 सिम कार्ड व एक काले रंग की मोटरसाइकिल स्पलेंडर मिला बरामद हुआ व निखिल यादव के पास से एक अदद रिवाल्वर व एक अदद जिंदा कारतूस 09.mm व एक किलो दो सो ग्राम नाजायज गांजा बरामद हुआ है।
पुलिस ने बताया की दोनों आरोपियों का निम्न धाराओं में चलान कर जेल भेज दिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here