the jharokha news

वाह रे स्वास्थ्य विभाग गाजीपुर; दो दिन में कोरोना पॉजिटिव से निगेटिव हुए, पत्रकार रविन्द्र नाथ

वाह रे स्वास्थ्य विभाग गाजीपुर; दो दिन में कोरोना पॉजिटिव से निगेटिव हुए, पत्रकार रविन्द्र नाथ

सैदपुर (गाजीपुर): कोरोना संक्रमण के प्रसार को देखते हुए ग्रामीण इलाकों में जमकर कोविड टेस्ट किये जा रहे है और फर्जी तरीके से कोविड पॉजिटिव मरीज बनाकर स्वास्थ्य विभाग द्वारा जमकर खेल किया जा रहा है। ताजा उदाहरण के तहत खानपुर थाना क्षेत्र के खरौना निवासी रबिन्द्रनाथ को जिले के कोविड सूची में शुक्रवार की रात कोरोना पॉजिटव घोषित कर दिया गया और स्वास्थ्य विभाग की टीम के साथ खानपुर पुलिस भी उन्हें लेकर कोरेण्टाइन सेंटर भेजने की तैयारी कर रही थी।

सूचना मिलते ही खरौना के रवींद्रनाथ सकते में आ गये और सैदपुर चिकित्सा अधीक्षक से बात कर उन्होंने बताया कि मैंने कोई टेस्ट नही कराया है और सूची में मेरा नाम व पता कैसे आया। रबिन्द्रनाथ की शिकायत पर स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया। एक निजी चैनल के जिला ब्यूरो रबिन्द्रनाथ ने तुरंत वाराणसी जाकर अगले दिन अपना कोविड टेस्ट कराया और निगेटिव रिपोर्ट लेकर मुख्यमंत्री सहित कमिश्नर, जिलाधिकारी गाज़ीपुर, सीएमओ गाज़ीपुर, एसपी गाज़ीपुर से अपने मानहानि की शिकायत दर्ज कराएंगे।

  Ghazipur Special Story, गाजीपुर का गंवई साहित्यकार, प्रो: रामबदन राय

रबिन्द्रनाथ ने बताया कि मेरी तरह ही गाज़ीपुर के कोविड पॉजिटिव लिस्ट में प्रतिदिन चार पांच फर्जी कोरोना मरीजों की सूची प्रकाशित होती होगी और उन्हें कोविड सेंटर में इलाज और देखरेख के नाम पर विभाग द्वारा जमकर पैसा लुटा जाता है। इधर गांवों में बिना जांच कराए कोविड पॉजिटिव आने वाले लोग मानसिक एवम शारिरिक रूप से परेशान होकर अपने घरों में छिप जा रहे है या किसी दूर रिश्तेदार के घर भाग जा रहे है।

  अतीक अहमद पर ईडी की बड़ी कार्रवाई, आठ करोड़ की संपत्ति जब्त

कोविड सेंटर के मरीजों के साथ होने वाली दुर्दशा और लापरवाही से लोग काफी गुस्से में है। कोविड प्रभारी डॉक्टरों का कहना है कि लोग गलत नाम पता मोबाइल नम्बर देकर जांच करा रहे है। जिससे इस प्रकार की दिक्कतें आ रहीं है। जिसका निदान किसके पास होगा यह समय ही तय करेगा।








Read Previous

MLC विशाल सिंह चंचल ने किया राजकीय नलकूप का लोकार्पण

Read Next

महिला ने लगाया छेड़छाड़ व मारपीट का आरोप, कहा- राजनीतिक दबाव में पुलिस नहीं कर रही कार्रवाई

Leave a Reply

Your email address will not be published.