the jharokha news

उत्तर प्रदेश देश दुनिया

चार घंटे में 40 राउंड फायर, पुलिस कर्मी शहीद

चार घंटे में 40 राउंड फायर, पुलिस कर्मी शहीद

कानपुर : उत्तर प्रदेश के कन्नौज जिले में हिस्ट्रीशीटर बाप-बेटों ने पुलिस टीम पर चार घंटे में 40 राउंड फायर कर कानपुर के बिकरू कांड जैसी घटना को दोहराने की कोशिश की। इस गोलीबारी में एक पुलिस कर्मी शहीद हो गया। बताया जा रहा है कि शहीद हुए सिपाही सचिन राठी की दो माह बाद शादी होने वाली थी। उसकी मंगेतर भी कांस्टेबल है और कन्नौज जिले में ही तैनात है। यह घटना सोमवार देर रात की है। बहरहाल पुलिस ने भागने की कोशिश कर रहे आरोपी बाप-बेटों का एनकाउंटर कर धर दबोचा है। शहीद हुए सिपाही का शव कानपुर के कन्नौज लाया जा रहा है। यहां पुलिस लाइन में शहीद सिपाही सलामी दी जाएगी।

दरअसल कन्नौज जिले की पुलिस की टीम सोमवार को बिशनगढ़ थाना क्षेत्र के धमनी धरपुर नगरिया में पूर्व प्रधान श्यामा देवी के हिस्ट्रीशिटर पति अशोक कुमार यादव उर्फ मुन्नालाल यादव के घर कोर्ट के आदेश पर कुर्की का नोटिस चस्पा करने गई थी। इसी दौरान हिस्ट्रीशिटर अशोक यादव और उसके बेटे ने पुलिस टीम पर सीधी फायरिंग कर दी। गोली सीधे सिपाही सचिन राठी को लगी और वह तफड़ाकर जमीन पर गिर पड़ा। उसे आननफानन में पहले कन्नौज और फिर कानपुर लेजाया गया जहां उपचार के दौरान मंगलवार सिपासी सिचन राठी ने दम तोड़ दिया।

सीसीटीवी पर देख रहा था पुलिस की हर मुवमेंट

पुलिस से मुताबिक इस घटना के बाद जिले के आठ थानों पुलिस और उच्चाधिकारियों ने गांव धरनी धरमपुर नगरिया को चारो ओर से घेर लिया। इस बीच आरोपी अशोक यादव पुलिस टीम पर फायरिंग करता रहता है। बताया जा रहा है आरोपी अशोक ने चार घंटे में पुलिस पर करीब 40 राउंड फायर किए। पुलिस का कहना है कि उसके घर में हर तरफ सीसीटीवी कैमरे लगे हैं। वह पुलिस की हर मुवमेंट को बड़ी आसानी से देख कर रहा था और उसी के आधार पर पुलिस सीधे फायरिंग कर रहा थ। पुलिस को उम्मीद थी कि जैसे जैसे रात गहराएगी वह भागने की कोशिश करेगा और इसी दौरान उसे काबू कर लिया जाएगा। और हुआ थी वैसे ही। पुलिस ने भागने की कोशिश कर रहे हिस्ट्रीशिटर अशोक यादव और उसके बेटे का एनकाउंटर कर दोनो को धर दबोचा। पुलिस का कहना है कि आरोपी की पत्नी पति और बेटे को हथियार थमा रही थी और वे दोनो पुलिस टीम पर फायर कर रहे थे।

आरोपितों के घर पहुंची भू राजस्व विभाग की टीम, पैमाइश शुरू

बताया जा रहा है कि मंगलवार को दलबल के साथ पुलिस टीम धरनी धरमपुर नगरिया में पहुंच कर हिस्ट्रीशिटर अशोक यादव के घर और जमीन की पैमाइश शुरू कर दी है। अब पुलिस टीम पर फायरिंग करने वाले अशोक यादव के घर पर कभी भी बुल्डोजर चल सकता है।

दबंग है पूर्व प्रधान पति

बताया जा रहा है कि पूर्व प्रधान श्यामा देवी का परिवार दबंग किस्म का है। इसलिए उसका गांव के अन्य लोगों के साथ कोई मेलमिलाप नहीं है। ग्रामीणों का कहना है कि उसका घर काफी बड़ा है। घर में सीसीटीवी कैमरे लगे है। अशोक यादव जब तक पूरी से तरह से तसल्ली नहीं कर लेता था तब तक घर का दरवाजा नहीं खोता था। हिस्ट्रीशिटर अशोक हत्या सहित दर्जनों केस विभिन्न थानों में दर्ज हैं। बताया जा रहा है कि उसके घर की तलाश में कई अवैध अथियार भी मिले हैं। हलांकि अभी पुलिस कार्रवाई चल रही है।







Lorem ipsum dolor sit amet, consectetur adipiscing elit...