the jharokha news

प्रधानमंत्री आवास (Prime Minister’s residence) बनवाने में रुकावट पैदा कर रहे विपक्षी

पीड़ित ने लगाई न्याय की गुहार

भेलसर(अयोध्या) शासन द्वारा जारी प्रधानमंत्री आवास (Prime Minister’s residence) को बनवा रहे लाभार्थी के रास्ते मे विपक्षी अड़चन पैदा कर रहे हैं और लगभग आधे से ज्यादा बनकर तैयार पीएम आवास की छत को नही डालने दिया जा रहा है।लाभार्थी द्वारा विरोध करने पर उसे फर्जी मुकदमे में फँसवाकर जेल भेजवाने की धमकी दी जा रही है जिससे लाभार्थी काफी आहत है और अपनी मदद के लिए उसने उच्चाधिकारियों से न्याय की गुहार लगाई है।

मामला नगर रूदौली के शेखाना मोहल्ला का है यहां की निवासिनी जैनब बानो पत्नी अब्दुल लतीफ ने बताया कि उसको पात्रता के आधार पर प्रधानमंत्री आवास(Prime Minister’s residence) (शहरी)आवंटित हुआ है जिसका निर्माण किया जा रहा है तथा निर्माणधीन आवास का दरवाजा मकान के पूरब दिशा में स्थित इंटरलॉकिंग पर किया है। जिसमे विपक्षी द्वारा यह कहकर आपत्ति जताई गई कि दरवाजा पूरब दिशा में होने से इंटरलाकिंग (interlinking) मार्ग अवरुद्ध हो सकता है और पुलिस को शिकायत करके निर्माणाधीन आवास को रुकवा दिया गया।

लाभार्थी महिला द्वारा उपजिलाधिकारी रूदौली से न्याय की फरियाद की गई तो उपजिलाधिकारी ने हल्का लेखपाल से मामले की जांच करवाई जांचोपरांत लेखपाल द्वारा प्रस्तुत की गई रिपोर्ट के आधार पर उपजिलाधिकारी विपिन कुमार सिंह द्वारा लाभार्थी को यह कहते हुए निर्माण का आदेश दिया गया कि वह मकान के पूरब दिशा स्थित इंटरलाकिंग (interlinking)मार्ग पर सिर्फ दरवाजा लगा सकता है|

अन्य किसी भी प्रकार का निर्माण नही करेगा जिससे कि इंटरलाकिंग  (interlinking) मार्ग अवरुद्ध हो।पीड़ित का आरोप है कि उसके द्वारा स्वीकृति जताए जाने पर निर्माण पुनः शुरू हो गया लेकिन पड़ोस की ही रहने वाली विपक्षी महिला पुरानी रंजिश के कारण लाभार्थी के निर्माण को रुकवाने पर तुली हुई है और कुछ लोगों का सहारा लेकर लाभार्थी के पुत्र गोरके तथा अन्य परिवारीजन को गलत तरीके से निराधार एवं मनगढ़ंत आरोप लगाकर फर्जी मुकदमों में फँसवाना चाह रही है और एक कथित प्रार्थना पत्र भी पुलिस को दे चुकी है |

जबकि मोहल्ले वालों का कहना है किसी भी प्रकार की कोई घटना नही हुई है सारे आरोप निराधार हैं।लाभार्थी महिला जैनब का कथन है कि उसका प्रधानमंत्री आवास का निर्माण सही लीगल प्रक्रिया में किया जा रहा है।विपक्षी के इन कृत्यों से पीड़ित लाभार्थी महिला काफी आहत है और उसने ऑनलाइन शिकायत के माध्यम से जिलाधिकारी सहित अन्य उच्चाधिकारियों से न्याय की गुहार लगाई है।इस संबंध में उपजिलाधिकारी विपिन कुमार सिंह ने बताया कि मामला संज्ञान में है जांच करवाकर निस्तारण किया जाएगा।

  • krishna janmashtami
    यह भी पढ़े

Read Previous

पूर्व मंत्री ओमप्रकाश राजभर के प्रतिनिधि राम जी राजभर की आक्समिक मौत

Read Next

CSC के माध्यम से किसान (Farmers) उत्पादक संगठन का गठन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!