the jharokha news

अनपढ़ थी पत्नी, पति ने हत्या कर लाश नदी में फेंका

अनपढ़ थी पत्नी, पति ने हत्या कर लाश नदी में फेंका

बस्ती : जिले में कैसा सनसनीखेज मामला सामने आ रहा है जिसे सुनकर हर कोई हैरान है। यहां एक पति ने शादी के करीब 12 साल बाद अपनी पत्नी की हत्या इसलिए कर दी क्योंकि वह पढ़ी-लिखी नहीं थी। यही नहीं पति ने हत्या के बाद अपने चचेरे भाई और चाची की मदद से पत्नी के शव को बोरे में भरकर नदी में फेंक आया। शक होने पर मृतका के परिजनों ने आरोपी पति के खिलाफ संबंधित थाने में केस दर्ज करवा दिया। यह मामला बस्ती जिले के थाना क्षेत्र वाल्टरगंज का बताया जा रहा है । आरोपी की पहचान श्री शंकर के रूप में हुई है। फिलहाल पुलिस ने महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है। वहीं आरोपी पति श्री शंकर उसके चचेरे भाई और चाची को वारदात में षड्यंत्र रचने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है।

यह है पूरा मामला

मामले के अनुसार पुलिस को मंगलवार को वाल्टरगंज थाना क्षेत्र में कृपालपुर के पास नदी में बोरे में एक महिला का शव बरामद हुआ। मृतका की पहचान शोभावती के रूप में हुई थी। थाना प्रभारी के मुताबिक मायके पक्ष ने शव की शिनाख्त की। पुलिस के अनुसार मृतका शोभावती के भाई की तहरीर पर श्रीशंकर के साथ ही शव छिपाने में मदद करने वाले के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया, और तीनों आरोपितों को दबोच लिया है । 25 वर्षीय शोभावती  का कसूर बस इतना था कि वह अनपढ़ थी, जिसके चलते उसके पति ने बेरहमी से उसे मौत के घाट उतार दिया ।

यह भी पढ़े   ट्रेन मे यात्रियों की सुरक्षा की खुली पोल,ट्रेन में पुर्व मंत्री ओमप्रकाश सिंह की,मोबाइल हुई चोरी

पत्नी से कई बार की पीछा छुड़ाने की कोशिश

बस्ती पुलिस की गिरफ्त में आरोपी

एसपी रविंद्र सिंह ने बताया की पत्नी की हत्या के आरोप में गिरफ्तार पति श्री शंकर ने पूछताछ में बताया कि वह शादी के बाद से ही पत्नी से नाखुश रहता था। श्रीशंकर ने पुलिस को बताया कि वह कई बार उसे छोड़ने की कोशिश की, लेकिन, शोभावती पति ( श्री शंकर) के साथ ससुराल में रहना चाहती थी, उससे पीछा छुड़ाने के लिए पति श्रीशंकर ने उसकी हत्या की साजिश रच डाली। शिव शंकर ने पुलिस को बताया कि शादी के समय उसके ससुराल वालों ने कहा था कि शोभावती पढ़ी लिखी है। लेकिन शादी के कुछ दिन बाद पता चला कि उसकी पत्नी शोभावती स्कूल गई ही नहीं है यानी वह पढ़ी-लिखी नहीं थी। इसलिए वह अपनी पत्नी से पीछा छुड़ाना चाहता था ताकि वह पढ़ी-लिखी किसी और लड़की से शादी कर सके।

पुलिस ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि छह सितंबर को भोर में ही पैर से लेकर गले व अन्य स्थानों पर वार कर श्रीशंकर ने शोभावती की हत्या कर दी। हत्या की जानकारी उसके चचेरे भाई उमाशंकर यादव व चचेरी सास प्रेमशीला को थी, इन दोनों की मदद से शव  नदी में फेंक दिया था।

तीनों आरोपी गिरफ्तार

एएसपी एसपी रविंद्र सिंह ने बताया कि आरोपित ने पुलिस को दिए बयान में या कबूला है कि उसने अपनी पत्नी की छत पर सोते समय हत्या कर दी थी। बाद में वह अपने चचेरे भाई उमाशंकर यादव व चाची प्रेम शिला की मदद से शोभावती के शव को बोरे में भरकर बाइक से ले जाकर पास की नदी में फेंक आया था। एसपी ने बताया कि पत्नी की हत्या के जुर्म में श्रीशंकर और श्रीशंकर के इस गुनाह में साथ देने व जुर्म छुपाने के आरोप में शंकर के चचेरे भाई उमाशंकर यादव और चाची प्रेम शिला के खिलाफ केस दर्ज कर तीनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया है। सभी आरोपितों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत कार्रवाई की जा रही है।

यह भी पढ़े   विशुनपुरा के ग्राम प्रधान पर घोटाले का आरोप, गाजीपुर से आई टीम ने की जांच 




Read Previous

बस्ती जिले में शौचालय घोटाला, 17000 लोगों को हो सकती है कार्रवाई

Read Next

पार्षद परमजीत टोना के प्रयासों से वार्ड 28 में सड़क निर्माण का काम शुरू

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *