चमत्‍कार, ट्रेन के नीचे आकर भी बच गया मासूम

Miracle survived by coming under the train, innocent

0
प्रतिकात्‍मक फाेेेेेटो

लखनऊ : कहते हैं जिसे बचाने वाला भगवान हो उसे को नहीं नहीं मार सकता। यह कहावत सच हुई साबित हुई जब एक बच्‍चा ट्रेन के नीचे आ कर भी जिंदा बच गया। यह घटना बल्‍लभगढ़ की रेलवे स्‍टेशन की बताई जा रही है।
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक नई दिल्‍ली से चल कर दो पहर करीब 2:30 बजे एक मालगाड़ी ने बल्लभगढ़ स्टेशन को पास किया ही था रेल लाइनों के पास खेल रहे एक नाबालिग ने दो साल के बच्‍चे को मालगाड़ी के आगे फेंक दिया।
रिपोर्ट के मुताबिक मालगाड़ी को चला रहे लोको पायलट दीवान सिंह और असिस्टेंट अतुल आनंद अचानक हुई इस घटना को देख कर घबरा गए। लेकिन उन्होंने इमरजेंसी ब्रेक लगाकर गाड़ी को रोक दिया।

भाई के साथ खेल रहा था बच्‍चा

रिपोर्ट के मुताबिक बच्‍चा अपने नाबालिग भाग के साथ खेल रहा। इसी दौरान खेल-खेल में उसने अपने छोटे भाई को रेल पटरी पर फेंक दिया। लेकिन ट्रेन के दोनो ड्राइवरों ने सूझबुझ का परिचय देते हुए इमरजेंसी ब्रेक लगाकर ट्रेन को रोक लिया। और बच्‍चे रेल पटरी से उठा कर उसके मां को सौंप दिया। इस घटना की जानकारी मिलने के बाद दोनों लोको पायलटों की रेल अधिकारी प्रसंशा कर रहे हैं।

इंजन के पहियों के बीच फंसा था बच्‍चा

इस घटना की सोशल मीडिया वर वायरल हो रही वीडियो में दिख रहा है कि ट्रेन खड़ी है और लोको पायलट व उसका सहयोगी एक बच्चे को मालगाड़ी के नीचे फंसा देखते हैं। हालांकि बच्चे को जिंदा देख दोनो ड्राइवर मुस्‍कराते हैं और बच्‍चे को निकाल कर उसे उसकी मां को सौंप देते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here