पंजाब

मां ने अपनी ही बेटी को जिंदा जलाया, अधजला शव प्‍लाटिक के बैग में रख नहर किनारे फेंका

  • चार बच्‍चों की मां आरोपी हरप्रीत कौर का पति से चल रहा था अनबन
  • पुलिस ने आरोपी महिला को किया गिरफ्तार, शव पोस्‍टमार्टम को भेजा

अमृतसर : पंजाब के अमृतसर जिले में एक हृदय विदारक घटना सामने आई है। यहां एम मां ने अपनी ही बेटी को जिंदा जला कर मार डाला। यही नहीं किसी को इस बात का पता न चले इसलिए वह इस निर्दई मां ने बेटी के अधजले शव को प्‍लास्टिक के लिफाफे में रख कर नहर किनारे फेंक दिया। बेटी की उम्र सात साल बताई जा रही है। यह घटना अमृतसर जिले के गांव ख्यालां खुर्द की है। फिलहाल पुलिस बच्‍ची का शव बरामद कर आरोपी मां को गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है कि आरोपी चार बच्‍चों की मां है।

ग्रंथी के साथ रह रही थी महिला

मामले के अनुसार महिला अपने पति से विवाद रहता था। इसलिए वह गुरुद्वारे के ग्रंथी गुरप्रीत सिंह के साथ रह रही थी। बताया जा रहा है कि ग्रंथी गुरप्रीत सिंह कभी-कभी गुरुद्वारे में रकता था। ग्रंथी जब घर आया तो उसे बच्ची नहीं दिखी। उसने दूसरे बच्चों से उस बच्ची के बारे में पूछा लेकिन किसी भी बच्‍चे ने उसके बारे में कुछ नहीं बताया। इसके बाद ग्रंथी गुरप्रीत ने बच्‍ची की गुमसुदगी की सूचना संबंधित थाने की पुलिस को दी। इसके बाद पुलिस ने बच्‍ची की तलाश शुरू की।

पुलिस को मां पर हुआ शक तो खुला भेद

पुलिस ने बच्‍ची की मां से जब पूछताछ शुरू की तो मामला संदिग्‍ध लगा। इसके बाद पुलिस थोड़ी कड़ाई बरती तो मामला सामने आ गया। जब, महिला ने अपनी ही बेटी को जिंदा जला कर मार देने बात पुलिस को बताई हो जांच अधिकारियों के रोंगटे खड़ हो गए। पुलिस अधिकारियों में आरोपी हरप्रीत कौर को गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद हरप्रीत कौर की निशानदेही पर नहर के पास से प्‍लास्टिक के बैग से बच्‍ची का अधजला शव बदारम कर लिया। पंचनामा बाद शव को सिविल अस्‍पतला अमृतसर पोस्‍टमार्टम के लिए भिजवा दिया है। पुलिस का कहना है कि बच्ची की हत्या के कारणों का पता नहीं चल सका है। फिलहाल पुलिस मामले जांच कर रही है। जल्‍द ही कारोणों का पता लगा लिया जाएगा।

Jharokha

द झरोखा न्यूज़ आपके समाचार, मनोरंजन, संगीत फैशन वेबसाइट है। हम आपको मनोरंजन उद्योग से सीधे ताजा ब्रेकिंग न्यूज और वीडियो प्रदान करते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button