उत्तर प्रदेश

मुख्‍तार अंसारी के तीन और करीबियों पर लटकी गिरफ्तारी की तलवार, कभी भी लग सकती है हथकड़ी

  • बार-बार लोकेशन बदल रहें हैं आरोपी, पुलिस की टीमें मुख्‍तार के करीबियों सहित दोनों बेटों पर रख रही है नजर
    लखनऊ के डाली बाग स्थित अवैध निर्माण में आरोपित है अब्‍बस और उमर अंसारी

लखनऊ : मऊ के बाहुबली विधायक मुख्‍तार अंसारी के तीन और करीबियों पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है। बाहुबली विधायक के बेहद करीबी बताए जा रहे इन तीनों की लोकेशन बार-बार बदल रही है। इनपर उत्‍तर प्रदेश पुलिस चौबीस घंटे नजर बनाए हुए है।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक इन तीनों और अंसारी के दोनों बेटों 25-25 हजार के इनामिया घोषित अब्‍बास और उमर को ढूंढने के बलए टीमें लगा दी गई हैं। जल्‍द ही इन्‍हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा। उधर, मुख्‍तार के दोनों बेटों का गैर जमानती वारंट लेने की भी प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। पुलिस का दावा है कि सीपी (पुलिस कमिश्‍नर) ने पूर्वांचल के पुलिस अधिकारियों को इसकी जानकारी दे दी है।

उल्‍लेखनीय है कि लखनऊ के डालीबाग स्थित शत्रु संपत्ति को कब्‍जा कर मुख्‍तार के दोनों बेटों के नाम से बनाई गई इमारत को एलडीए प्रशास ने पिछले महीने ध्‍वस्‍त कर दिया था। इस मामले में दोनों आरोपियों (अब्‍बास और उमर) के न मिलने पर लखनऊ के सीपी सुजीत पांडे ने उन्‍हें 25-25 हजार का इनामिया घोषित कर दिया था।

अवैध संपत्तियों की पहचान की जा रही है

लखनऊ सीपी सुजीत पांडे ने बताया कि बाहुबली विधायक और उसके गुर्गों की अवैध संपत्तियों की पहचान करना का काम शुरू कर दिया गया है। उन्‍होंने बताया कि अब तक छह से अधिक लोगों की संपत्तियों की पहचान की जा चुकी है। लखनऊ में छापेमारी भी की जा रही है।

गाजीपुर में गिराया अवैध निर्माण

उल्‍लेखनीय है कि करीब दो दिन पहले ही मुख्‍तार अंसारी की पत्‍नी अफसा अंसारी अपना अवैध निर्माण खुद ही गिरवा दिया था। गाजीपुर के लालदरवाजा के पास बन रहे शॉपिंग कांप्‍लेक्‍स में नक्‍शे के वीपरित अवैध निर्माण करवाया जा रहा है। इस संबंध में एसडीएम ने कांप्‍लेक्‍स की मालकिन अफसा अंसारी को नोटिस जारी कर अवैध निर्माण गिरवाने को कहा था।

Jharokha

द झरोखा न्यूज़ आपके समाचार, मनोरंजन, संगीत फैशन वेबसाइट है। हम आपको मनोरंजन उद्योग से सीधे ताजा ब्रेकिंग न्यूज और वीडियो प्रदान करते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button