the jharokha news

Ghazipur, Barachwar: वीडियो की कार्यशैली से पत्रकार, नाखुश

Ghazipur, Barachwar: किसी भी अधिकारी को अपना गुड़गांन करना होता है,तो कहते है।पत्रकारों को बुलाते है।और पत्रकार अपना फर्ज समझ कर अधिकारियों द्वारा किये हुए कार्य को पत्रकार निस्वार्थ अपने कलम से अच्छी खबरे लिख कर जनता के सामने प्रस्तुत करते है।ताकि जनता भी अधिकारियों द्वारा किये हुए कार्य को जान सके ।लेकिन जब पत्रकारो का काम पड़ता है।तो अधिकारी अपना मुह मोड़ लेते है।ये किसी एक की बात नहीं ऐसे बहुत से विभाग के अधिकारी पड़े हुए है।ताजा मामला बाराचवर ब्लाक का है।

जहां ब्लॉक स्तर पर होने वाली मीटिंग को लेकर पत्रकार संघ के मोहम्दाबाद तहसील अध्यक्ष रविंद्र यादव ने बाराचवर खंड विकास अधिकारी शिवांकित वर्मा से मिलकर आग्रह किया कि पत्रकारों को मीटिंग हॉल बैठक के लिए उपलब्ध करावे, परंतु वीडियो साहब ने पत्रकारों को साफ साफ मना कर दिया। पत्रकारों को चौथा स्तंभ कहा जाता है पर सम्मान की बात आती है तो मुंह फेर लिया जाता है। संगठन के बैठक हेतु स्थान नहीं दिए जाने से पत्रकारों ने वीडियो साहब ऐसा करेंगे सोचा भी नहीं था।

  मेडिकल कॉलेज लखनऊ अगर अपना सिस्टम सुधार ले तो तमाम लोगो की जाने बचाई जा सकती है |

यह अधिकारी लोकतंत्र के चौथे स्तंभ के रूप में पत्रकार को मीटिंग करने की अनुमति नहीं दे सकते हैं। और पत्रकारों से अपनी बाहबाही का ढिंढोरा पिटवा ने की उम्मीद रखते हैं। हम लोकतंत्र के चौथे स्तंभ हैं पर खंड विकास अधिकारी आपके इस विचार से पत्रकारों ने नाराजगी जाहिर किया है। और कुछ पत्रकारों ने बताया कि गोपनीय सूत्र बताते हैं कि ऐसे वीडियो की काली करतूतों से ब्लॉक पूरी तरह से भ्रष्टाचार में जकड़ा पड़ा है अगर इनकी मीडिया अच्छे से पड़ताल कर दे तो इनकी पोल खुल जाएगी।








Read Previous

Ghazipur News: ब्राह्मण रक्षा दल ने असक्षम बच्चों के पढ़ने के लिए शुरू किया मुहिम

Read Next

17 of the Best AI Chatbots for 2022