the jharokha news

मुख्तार और अतीक गैंग पर कसा शिकंजा 12 तड़ीपार, आठ गिरफ्तार

मुख्तार और अतीक गैंग

मुख्तार और अतीक गैंग

झरोखा न्यूज नेटवर्क, मऊ /प्रयागराज : पूर्वांचल के दो बाहुबली मुख्तार और अतीक अहमद पर उत्तर प्रदेश सरकार का चाबुक चलना शुरू हो गया है। इन दिनों दोनों बाहुबलियों एक मऊ सदर से विधायक है तो दूसरा प्रयागराज से पूर्व विधायक है । यह दोनों इस समय अलग-अलग जेलों में बंद हैं । इन दिनों इन दोनों पर कानून का शिकंजा रोज करता जा रहा है । अब तक इन दोनों गैंग के दर्जनों लोगों को काबू कर जेल भेजने के साथ ही उनकी प्रॉपर्टी भी अटैच की जा चुकी है। यहां तक कि कईयों को जिला बदर भी किया जा चुका है। यानि कि उनके काले साम्राज्य के किले की दीवारें एक-एक कर दर रही हैं।

22 गुर्गों पर लगा गुंडा एक्ट

इसी कड़ी के तहत मुख्तार अंसारी गैंग के 12 गुर्गों को जिला बदर तो 22 बार गुंडा एक्ट के तहत मऊ जिला पुलिस ने कार्रवाई की है पुलिस की कार्रवाई यही नहीं रुके बल्कि जिला पुलिस ने 26 का असला लाइसेंस निरस्त कर दिया है जिला पुलिस कप्तान मनोज सोनकर के मुताबिक मुख्तार गैंग के 10 से अधिक अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

गिरफ्तार

इन अपराधियों को किया जिला बदर

पुलिस कप्तान के मुताबिक माफिया मुख्तार के गुर्गों में शार्प शूटर अनुज कनौजिया, रशीद हाफिज, जावेद आरजू, मोहम्मद तला, अमीर हमजा, मोहम्मद सलमान, जुल्फिकार कुरैशी, तारिक अनीश और पार्षद अल्तमश शामिल है । पुलिस के मुताबिक अनुज कनौजिया पर विभिन्न धाराओं के तहत 19 गंभीर मामले दर्ज हैं।

शार्प शूटर सहित अतीक के आठ गुर्गे धरे

इधर, प्रयागराज पुलिस ने ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए पूर्व विधायक और माफिया अतीक अहमद के खास आठ गुर्गों को धर दबोचा है। एडीजी प्रेम प्रकाश के मुताबिक शार्प शूटर मल्ली पर जमीन कब्जाने सहित कई गंभीर मामले दर्ज हैं। एडीजी के मुताबिक मल्ली बसपा विधायक राजू पाल की हत्या का भी आरोपी है। यही नहीं उस पर एक सैन्य अधिकारी की पत्नी की हत्या का भी इल्जाम है। इस मामले में वह इस समय जमानत पर जेल से बाहर था।

Read Previous

लोकप्रिय चौकी प्रभारी, ओमकार तिवारी का स्थांतरण

Read Next

सुशांत सिंह राजपूत केस में ड्रग्स की एंट्री

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!