the jharokha news

पुलिस का खुलासा गर्दन दबाने के बाद,हंसिया से काटा था सिर

रजनीश कुमार मिश्र गाजीपुर : मरदह थाने क्षेत्र के भोजपुर गांव के सिवान में 18 अगस्त को हुए सिर कटी लाश हत्याकांड के आरोप में पुलिस ने एक महिला सहित एक पुरूष आरोपी को पकड़ने में कामयाबी हांसिल की है।पुलिस को ये कामयाबी बुधवार को मिली जहां पुलिस ने दोनों आरोपियों को हैदरगढ़ चट्टी से गिरफ्तार किया है।

हंसिया से काटा था सिर

।इस संबंध में गाजीपुर पुलिस अधीक्षक ने बताया की स्वाट टीम व मरदह पुलिस की संयुक्त टीम ने एक महिला व एक पुरूष को गिरफ्तार किया है।बतादें की मरदह थाने क्षेत्र के भोजपुर गांव के सिवान में एक युवती की सिर कटी लाश बरामद हुई थी।जिसका पुलिस शिनाख्त करने का प्रयास किया था।तथा शव.को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया था।इस हत्याकांड में ग्रांम प्रधान की तरफ से मरदह थाने में मु0 अ0 स0 189/21 302/201 भा0 द0 वि0 बनाम अज्ञात के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कराया गया था।जिसकी जांच की जा रही थी।

पुलिस ने बताया की बुधवार को मुखबिर की सूचना पर स्वाट टीम व मरदह पुलिस ने घटना में शामिल दो अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है जिसमें एक महिला व एक पुरूष है।पुलिस अधीक्षक ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया की महिला अभियुक्ता व पुरूष अभियुक्त को हैदरगंज चट्टी से गिरफ्तार किया गया है।पुलिस पुछताछ में अभियुक्त रामकिशुन यादव ने बताया की मै कई वर्षों से बलिया में रह रहा था।रामकिशुन ने बताया की इस दौरान घटना मे शामिल उषा देवी से मेरी मुलाकात हो गई। लॉकडाऊन के दौरान मै उषा के ही घर रह रहा था

यह भी पढ़े : श्मशान में क्यों रहते हैं शिव, शवों से शिव का क्या है नाता

रामकिशुन ने जानकारी देते हुए बताया की उषा के गांव की ही महिला जिसका नाम मिन्ता(मृतक) उसने मेरे व उषा के संबंधों को लेकर गांव में अनापशनाप अफवाह फैलाया गया था। मिन्ता ने उषा के पति भी बता दिया था।बदले के भावना से मृतक को अपने विश्वास में ले 17 तारीख को उषा व मृयक मिन्ता को लेकर दवा दिलाने के बहाने लेकर चला व अपने गांव भोजपुर में उषा से मिन्ता को मारने के लिए कहा ।रामकिशुन ने बताया की मृतका को एक सूनसान जगह बैठ काफी देर तक बात किया व मौका मिलते ही उसकी गर्दन को दबाकर कर नाली में गिरा दिया।तत्पश्चात उसकी गर्दन को हंसिया से काट दिया।तथा शव को छिपाने हेतुः जंगल में ले जिकर फेंक दिया।

उसने बताया की दोबारा उसका सर ले जाकर कुछ दुरी पर फेंक दिया।पुलिस ने बताया की पकड़े गये अभियुक्त का नाम रामकिशुन यादव उर्फ संजय यादव पुत्र राम सुख यादव निवासी लहुरापुर थाना मरदह गाजीपुर तथा अभियुक्ता उषा पत्नी सुबेदार बिन्द ग्राम घघरौली थाना बांसडीह जनपद बलिया की निवासी है। गिरफ्तार अभियुक्त रामकिशुन यादव पर अपराधिक मु0अ0स0 204/19 धारा 379 भा0द0वि0, मु0अ0स0 94/19 धारा 411/413/414/419/420 भा0द0वि0, मु0अ0स0 95/19 धारा 3/25 आर्म्स एक्ट, मु0अ0स0 108/19 धारा 380/457 भा0द0वि0, मु0अ0स0 109/19 धारा 380/457 भा0द0वि0 दर्ज है।

गिरफ्तार करने वाली टीम में मरदह प्रभारी निरीक्षक कृष्ण कुमार सिंह, स्वाट टीम में प्रभारी निरीक्षक विनीत कुमार राय, उ0नि0 सुरेश कुमार मौर्य, हे0का0 रामभवन यादव, हे0का0 रामप्रताप सिंह, हे0का0 प्रेम शंकर, का0 विकास श्रीवास्तव, का0 आशुतोष सिंह, का0 प्रमोद कुमार, का0चा0 ओमप्रकाश, हे0का0 लल्लू प्रसाद , का0 कुलदीप बिंद ,का0 राजेश तिवारी ,का0 संदीप पाण्डेय, म0का0 पुष्पा कुमारी शामिल रहे।

यह भी पढ़े : श्मशान में क्यों रहते हैं शिव, शवों से शिव का क्या है नाता

  • krishna janmashtami
    यह भी पढ़े

Read Previous

उत्तर प्रदेश आदर्श व्यापार मंडल ने पूरे किए अपना 17 वा स्थापना वर्ष व्यापारी स्वाभिमान जागरूकता एवं संकल्प अभियान

Read Next

हमेशा की तरह एक परिवार की खुशियां लौटाने का माध्यम बने (इंस्पेक्टर अजय कुमार सिंह)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!