the jharokha news

स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया जिला कमेटी सुल्तानपुर ने राजकीय इंटर कॉलेज सुल्तानपुर में 11 सदस्यीय कमेटी का गठन किया।

स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया जिला कमेटी सुल्तानपुर ने राजकीय इंटर कॉलेज सुल्तानपुर में 11 सदस्यीय कमेटी का गठन किया।

प्रकाशनार्थ, सुल्तानपुर : स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया जिला कमेटी सुल्तानपुर ने राजकीय इंटर कॉलेज सुल्तानपुर में 11 सदस्यीय कमेटी का गठन किया ।उपस्थित छात्रों ने कक्षा 11 के छात्र तुषार वर्मा को अध्यक्ष और कक्षा नौ के छात्र हरि ओम को इकाई का सचिव चुना साथ ही विष्णु गुप्ता को उपाध्यक्ष और आदर्श पाल व संजय को संयुक्त सचिव चुना कमेटी सदस्य के रूप में प्रिंस गुप्ता विपिन यादव कुणाल बरनवाल और प्रिंस को सर्वसम्मति से कमेटी के सदस्य के रूप में चुना गया।

उपस्थित छात्रों को संबोधित करते हुए संगठन के जिला उपाध्यक्ष पार्थसारथी द्विवेदी ने कहा की राजकीय इंटर कॉलेज जिले के बेहतरीन इंटर कॉलेजों में से एक है लेकिन आज उपेक्षा का शिकार है कॉलेज की सबसे बड़ी समस्या यह है कि यहां पर शिक्षकों की भारी कमी है पुस्तकालय तो है लेकिन कहां है इसका कोई पता नहीं है कमरे के बाहर वाचनालय तो लिखा है लेकिन उसमें कक्षा 8 की कक्षाएं संचालित होती हैं ऐसे में यह कहा जा सकता है कि छात्रों को मिलने वाली तमाम आधारभूत सुविधाएं कागजों में दीवारों पर तो मौजूद हैं लेकिन धरातल पर वह कहीं दिखाई नहीं देती है ।

आगामी समय में निश्चित तौर पर स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया इन तमाम वाजिब मांगों को लेकर एक मांग पत्र डीआईओएस महोदय को सौंप कर निस्तारण की मांग करेगा। इसी क्रम में राजकीय इंटर कॉलेज के छात्र तुषार वर्मा ने कहा कि कॉलेज का स्थान मौजूदा समय में कोचिंग संस्थानों ने ले लिया है ऐसा कोई पाठ्यक्रम नहीं है जो कॉलेज पूर्ण कराने का दावा करता हो लेकिन एग्जाम समय से होंगे दूसरी तरफ कोचिंग संस्थान कोर्स को पूरा कराने के नाम पर छात्रों को अपने यहां भर्ती करते हैं यह बड़ा कारण है कि कॉलेज से छात्र संख्या गायब होकर कोचिंग संस्थानों को गुलजार कर रहे हैं इससे अभिभावकों के जेब पर दोहरा बोझ और छात्रों पर अतिरिक्त मानसिक दबाव पड़ रहा है ।







Read Previous

लखनऊ नगर निगम जोन 2 का मामला हुआ उजागर

Read Next

लखनऊ वशीरतगंज वार्ड के पूर्व महानगर महामंत्री गिरीश गुप्ता व पार्षद शशि गुप्ता ने उज्जवला योजना के तहत किया गैस सिलेंडर का वितरण

Leave a Reply

Your email address will not be published.