the jharokha news

राजनीतिक हत्या थी अविनाश सिंह की हत्या : विरेंद्र

राजनीतिक हत्या थी अविनाश सिंह की हत्या : विरेंद्र

 

  • 16वीं तिथि पर याद किए भाजपा नेता अविनाश सिंह
  • क्षेत्र के लोगों ने दी भावभीनी श्रद्धांजलि, कहा- पश्चाताप कर रहा है पूरा क्षेत्र

रजनीश कुमार मिश्र बाराचवर (गाजीपुर) हर साल की भांति इस साल भी ब्लॉक मुख्यालय के स्थानीय बाराचवर गांव निवासी भाजपा नेता ब्रजेंद्र सिंह के बड़े भाई क्षेत्र के लोक प्रिय स्व अविनाश सिंह का सोलहवां पुण्यतिथि इस साल भी मनाया गया।शोक सभा में आये भाजपा नेता विरेन्द्र राय ने कहा की अविनाश सिंह की हत्या एक राजनीतिक हत्या थी।

उन्होंने कहा की उनके विरोधियों को पता था,की वो आगे चल कर इस क्षेत्र से विधायक हो सकते है।  विरेन्द्र राय ने कहा की इस धरती पर तीन तरह के पुत्र होते है।. पुत,सपुत,कपुत्र अविनाश सिंह इस धरती के सपुत थे।जिन्हें इस क्षेत्र के सभी लोग चाहते थे।उन्होंने कहा की अविनाश सिंह एक ऐसे इंसान थे।वगैर पहचान के लोगो का भी हालचाल पुछते थे।

वही करणी सेना के जिलाध्यक्ष अजय सिंह ने कहा की आतताईयों ने जिस तरह से हत्या किया था।वो भुलने वाला नहीं है।आज भी उस दिन को याद कर आंखों में आशु आ जाते है।उन्होंने कहा की वो दिन इस क्षेत्र के लिए काला दिन था।
शोक सभा में उपस्थित पशु चिकित्सालय के वेटनरी फर्मासिस्ट कमलेश यादव ने कहा की

“तारीख ने देखी है ऐसी भी घड़ियां, लम्हों ने खता की सदीयों ने सजा पाई’

श्री यादव ने कहा की आज से कुछ वर्षों पहले ऐसे व्यक्ति की हत्या हुई। जिसकी टीस आज भी सभ्य समाज को सता रही है। जालिमों ने जिस तरह से हम लोगों के बीच से ऐसे व्यक्तित्व को छीना जिसका पश्चाताप पुरा क्षेत्र कर रहा हैं। और प्रतिवर्ष उनके पुण्यतिथि पर लोग उपस्थित होकर अपनी आशु धाराओं से श्रद्धांजली देते हैं।

कमलेश यादव ने कहा की-
जालीम का नाम मीट गया जमाने से,याद वो रह गया पानी न मिला।

26 सितंबर 2004 में हुई थी, हत्या

बताते चले की करीब सोलह साल पहले इसी तारीख 26 सितंबर सन्2004 में बाराचवर ब्लॉक क्षेत्र के दिग्गज नेता अविनाश सिंह का बदमाशों ने गोली मार हत्या कर दिया था । मालूम हो की स्व अविनाश सिंह पुरे क्षेत्र के चहेते व नेक दिल इंसान थे।उनके विरोधियों को ये डर था की कही अविनाश सिंह का कद और उपर ना चला जाय इसी डर के वजह से कुछ लोगों ने क्षेत्र के चहेते इंसान का हत्या करवा दिया।

उन्हीं का चाय पी मारी थी गोली

बतादे की अविनाश सिंह बाराचवर तीराहे पर मौजूद एक चाय की दुकान में बैठे थे। तभी मोटरसाइकिल सवार दो युवक आये और उन्ही से पूछा की भाईजी कौन है। तब अविनाश सिंह ने कहा की मै ही हुं अपने शोभाव के तहत उन्होंने ने कहा की आप पहले पानी पीजिए तब बदमाशों के फायर करते समय बदमाशों के हाथ भी नहीं कांपे और उन्ही का पानी पी उनके उपर फायर कर दिया। जिससे दिग्गज नेता की मौके पर ही मौत हो गई।

इस शोक सभा के मौके पर दीपक सिंह, करणी सेना के जिलाध्यक्ष वेदप्रकाश सिंह वेदु,करणी सेना के महामंत्री अजय सिंह, वेटनरी फर्मासिस्ट कमलेश यादव,विरेन्द्र राय,भोला सिंह, भाजपा नेता देवेन्द्र सिंह देवा,अनील यादव ,दयानंद कुशवाहा, स्व अविनाश सिंह के छोटे पुत्र हिमांशु सिंह,आदि लोग मौजूद रहें।

  • krishna janmashtami
    यह भी पढ़े

Read Previous

दरिंदगी; चलती बस में महिला से सामूहिक दुष्‍कर्म

Read Next

फंदे से लटकते मिले नाबालिग प्रेमी जोड़े

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!