the jharokha news

Up News: जहरीली शराब से 10 लोगों की मौत, महाराजगंज में पसरा मातम

रायबरेली । जिले के महाराजगंज कोतवाली क्षेत्र के पहाड़पुर गांव में बच्चे के जन्म के बाद आयोजित प्रीतिभोज में परोसी गई जहरीली शराब से जहां मंगलवार की रात में चार मौतें हुई तो वहीं बुधवार की सुबह तक यह संख्या बढ़कर 10 हो गई । हालांकि, आईजी पुलिस व मंडलायुक्त ने जहरीली शराब से सिर्फ 6 मौतें होने की ही पुष्टि की है।

जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने रात में ही पहुंच कर कमान संभाल ली तो वहीं बुधवार की सुबह नौ बजे आइजी लक्ष्मी सिंह व मंडलायुक्त रंजन कुमार भी मामले की जांच करने पहुंचे और आरोपितों पर कड़ी कार्रवाई की बात कही। वहीं मामले में ठेकेदार व सेल्समैन के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कराने के साथ ही जिला आबकारी अधिकारी राजेश्वर मौर्या से स्पष्टीकरण मांगा गया है।तो वहीं आबकारी इंस्पेक्टर अजय कुमार और सिपाही धीरेंद्र श्रीवास्तव निलम्बित कर दिए गए हैं।

जानकारी के अनुसार पहाड़ पुर गांव निवासिनी सुखरानी के घर सोमवार को बेटी के जन्म के बाद प्रीति भोज का आयोजन किया गया था। जिसमें रिश्तेदारों सहित बड़ी संख्या में लोग प्रीति भोज में शामिल हुए थे। प्रीति भोज में परोसी गई देशी शराब पीने से मंगलवार की सुबह पहाड़पुर गांव निवासी सरोज की मौत हो गई।तो वहीं देर शाम सुखरानी और राम सुमेर की हालत गंभीर होने पर महराजगंज सीएचसी ले जाया गया जहां उनकी भी मौत हो गई वहीं जिला अस्पताल में इलाज के दौरान बंशी ने भी दम तोड़ दिया।

जहरीली शराब से मौत के बाद जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव व पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार के साथ गांव पहुंचे जहां मामले को गंभीरता से लेते हुए डीएम व एसपी ने प्रीति भोज में शामिल लोगों की जानकारी जुटाने के साथ ही उन लोगों को उनके घरों से उठाकर सीएचसी महराजगंज पहुंचाना शुरू कर दिया। जहां पर प्राथमिक उपचार के बाद गंभीर हालत में पाये गये लोगों को जिला चिकित्सालय रायबरेली इलाज के लिए भेजा गया।

जहरीलरी शराब पीने से इन लोगों की हुई मौत

मौतों का ये सिलसिला बदस्तूर जारी रहा और सुखरानी के रिश्तेदार बहादुर नगर निवासी कल्लू और लोधवामऊ के बचई ,पहाड़पुर के चंद्रपाल की जिला अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गईं। इनके अलावा थुलवासा में भट्ठे पर काम करने वाले रामबाबू और कासिम, नहर विभाग में काम करने वाले पहाड़पुर निवासी पंकज सिंह की भी जिला अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई।

प्रीति भोज में परोसी गई थी शराब

परिजनों के अनुसार इन सभी ने या तो सुखरानी के यहां प्रीति भोज में परोसी गई शराब पी थी या फिर पहाड़ पुर स्थित देशी शराब के ठेके से शराब खरीदकर पी थी। मामला सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद पूरा गांव मंगलवार की रात से ही छावनी में तब्दील है। बुधवार की सुबह लखनऊ मंडल के मंडलायुक्त रंजन कुमार, आइजी लक्ष्मी सिंह, जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव, पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार, सहित पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी बुधवार को भी गांव में डेरा डाले हुए हैं।

पुलिस ने की छह लोगों के मौत की पुष्टि

मंडलायुक्त व आइजी ने मीडिया से अपने वक्तव्य में कहा कि छह लोगों की जहरीली शराब से मौत होने की पुष्टि हुई है।अन्य चार की मौत होने के बावत जानकारी करने पर उन्होंने कहा कि अभी पुष्टि नहीं हुई है। इन सभी लोगों का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। पहाड़ पुर स्थित देशी शराब ठेका सीज कर ठेकेदार पूरे पोतराम सिंह निवासी धीरेंद्र सिंह व सेल्समैन राम प्रताप के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कराई गई है। दोनों की तलाश की जा रही है।

जहरीली शराब से मौतों के बाद जागा प्रशासन

ज़हरीली शराब से हुई मौतों के बाद नींद से जागे जिला प्रशासन ने लोगो से विंडीज ब्रांड को जानलेवा बताया है । और अगले आदेश तक ब्रांड का सेवन न करने की बात कही है । विंडीज ब्रांड की शराब पीने वालों को नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में सम्पर्क करने की सलाह देते हुए जिला स्तर पर बने कंट्रोल रूम नंबर 05352203320,  9454418979,  9454418981  सम्पर्क करने की अपील की है।

 







Read Previous

बिहार में छात्रों ने फूंकी रेल, RRB-NTPC के रिजल्ट में लगाया धांधली का आरोप

Read Next

Up News: बरेसर में थानाध्यक्ष ने फहराया राष्ट्रीय ध्वज