the jharokha news

श्रमजीवी पत्रकार संघ ब्यौहारी के पदाधिकारियों ने किया सहकारी संस्थाओं में यूरिया वितरण का औचक निरीक्षण

शहडोल ब्यौहारी से दुर्गेश कुमार गुप्ता की रिपोर्ट : शहडोल जिले के ब्यौहारी लीड के आधा दर्जन से अधिक सहकारी संस्थाओं में यूरिया की आवक संघ के पदाधिकारी द्वारा प्रशासनिक अधिकारियों को किए गए आगाह के बाद भेजी गई है, लेकिन मन टोला में स्थित देवगांव सोसाइटी के विक्रेता सुरेंद्र कुमार तिवारी द्वारा ग्रामीण गरीब किसानों के साथ धोखाधड़ी की जा रही थी, शिकायत के बाद श्रमजीवी पत्रकार संघ ब्यौहारी के उपाध्यक्ष लक्ष्मीकांत चतुर्वेदी, सचिव विनय कुमार द्विवेदी एवं सदस्य दुर्गेश कुमार गुप्ता द्वारा मन टोला स्थित देवगांव सहकारी संस्था में पहुंचकर वहां के हितग्राहियों से मुलाकात कर बातचीत की गई, जिसमें किसानों द्वारा बताया गया कि विक्रेता द्वारा हम किसानों को ₹270 प्रति बोरी यूरिया का दिया जा रहा है, और ₹270 में 1 बोरी यूरिया दी जा रही है.

 

उल्लेखनीय है कि शासन द्वारा किसानों को वितरित करने हेतु ₹267 निर्धारित किए गए हैं, लेकिन जगह-जगह विक्रेताओं द्वारा लगातार मनमानी रेट पर यूरिया बेची जा रही है, देखा जा रहा है कि सहकारी संस्थाओं में कम प्राइवेट लाइसेंस धारियों के गोदामों में भारी मात्रा में यूरिया का स्टॉक देखा गया है लाइसेंस धारियों द्वारा भी प्रति बोरी के हिसाब से 500 से ₹600 में प्रति बोरी यूरिया किसानों को दी जा रही है.

श्रमजीवी पत्रकार संघ ब्यौहारी के पदाधिकारियों ने किया सहकारी संस्थाओं में यूरिया वितरण का औचक निरीक्षण

वनसुकली चौराहा स्थित पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष उज्जवल केसरी के भाई धीरू गुप्ता द्वारा भरे बाजार में किसानों को यूरिया वितरित की गई जबकि एक अलग भोगिया तिराहे के समीप बने गोदाम में भारी यूरिया का जखीरा देखा गया, किसान यूरिया के लिए मोहताज था और यहां के जनप्रतिनिधि तथा प्रशासनिक अधिकारी सांठगांठ करके जिला विपणन अधिकारी के सह से ब्यौहारी के बाजार में बेची गई थी, जिसका व्यापारियों ने लॉकडाउन में भरपूर दोहन किया समाचार लिखे जाने तक मन टोला स्थित देवगांव सोसाइटी में 300 बोरी यूरिया 23 अगस्त तक भेजी गई है, जबकि विक्रेताओं का कहना है अभी तक प्रदाय की गई यूरिया परमिट से आधी भी प्रदाय नहीं की गई है, जिससे किसानों को एवं विक्रेताओं को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.

 

लोगों का कहना है यदि इस तरह से लगातार लॉकडाउन में रहने के बावजूद प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा मिलीभगत करके किसानों के हितों की अनदेखी की जा रही है कलेक्टर शहडोल से किसानों ने अपेक्षा की है की भरपूर मात्रा में ब्यौहारी लीड की समस्त सहकारी संस्थाओं में यूरिया उपलब्ध कराई जाए तथा किए जा रहे अनियमितताओं की जांच करते हुए लाइसेंस धारियों की लाइसेंस भी निरस्त की जाए

  • krishna janmashtami
    यह भी पढ़े

Read Previous

प्रेमी के घर मिलीं पूर्व प्रधान,तीन दिन से ढूंढ रही थी पुलिस

Read Next

लोकप्रिय चौकी प्रभारी, ओमकार तिवारी का स्थांतरण

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!