the jharokha news

पत्रकारों को दरकिनार कर सफाई कर्मचारियों से शौचालय की जांच करवाएं भ्रष्ट उद्यान अधिकारी

बाराचावर : स्थानीय ब्लॉक के अंतर्गत चर्चित ग्राम सभा टोडरपुर में हाईकोर्ट के आदेश के बाद जिलाधिकारी के निर्देशन से जिला उद्यान अधिकारी शौचालय की जांच करने के लिए शाम करीब 4:00 बजे के आसपास गांव में पहुंचे अपनी सरकारी गाड़ी से सीधे पूर्व प्रधान के दरवाजे गए एवं 2 घंटे के वार्तालाप के बाद शाम 5:00 बजे:के आसपास 10 सफाई कर्मचारियों से शौचालय की जांच शुरू कराएं |

विपक्ष के कहने के बाद भी जांच अधिकारी ने बार-बार आश्वासन देते रहे कि आप लोगों को हम संतुष्ट कर के ही जाएंगे और अंधेरा होने के बाद कुछ शौचालय की जांच हो सकी जिसके उपरांत जांच अधिकारी ने आश्वासन देकर प्रधान की मिलीभगत से अपने गंतव्य को रवाना हो गए |

पत्रकारों को फर्जी बताकर बाइट देने से मना कर दिए

जांच अधिकारी ने जब जांच करने के बाद गाड़ी में बैठने लगे तो कुछ पत्रकार साथियों ने मौके की स्थिति की जानकारी लेने के लिए जांच अधिकारी महोदय से बात किए तथा कहे की हमें बाइट दे दीजिए जिसके बाद जांच अधिकारी के पास कुछ ऐसा शब्द नहीं था की मीडिया को बता सकें उन्होंने सूचना विभाग का हवाला देते हुए सभी सभी पत्रकारों को फर्जी बताकर मौके से चल दिए पत्रकार साथियों ने महा ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन के जिला अध्यक्ष से फोन से बात भी कराया इसके बावजूद भी उन्होंने मौके कोई स्थिति बताने के लिए मना कर दिया |

टोडरपुर जमई गांव का बदहाल है स्थिति एवं 3 लोगों के नाम पर फर्जी बना शौचालय

टोडरपुर ग्राम सभा में एक छोटा सा पूर्वा है जमई का जमई राजभर बस्ती होने के कारण उस बस्ती में किसी के पास आवास नहीं है नहीं रहने का कोई घर है ना शौचालय है वह बहुत से लोग हैं जिनके नाम पर शौचालय का पैसा निकाल दिया गया है तथा मौके पर शौचालय का कोई नामोनिशान नहीं है मौके पर मीडिया से मुखातिब हुए सुदामा राजभर ने बताया कि हमारे नाम पर दो शौचालय निकाल दिया गया है |

जिसकी जानकारी हमें नहीं है प्रधान एवं ग्राम सचिव मिलकर पैसे खा गए हैं उत्तर प्रदेश सरकार दावा करती है कि हम भ्रष्ट अधिकारी एवं कर्मचारी के ऊपर सख्त से सख्त नी कार्रवाई करेंगे जिसका ताजा उदाहरण टोडरपुर जमई गांव है वहां कार्य जो है सिर्फ कागज में हुआ है लोगों की हालत बेहाल है सड़क के पानी लगा हुआ है कोई नया खड़ंजा नहीं बना है |

मौके पर राज्यमंत्री आनंद स्वरूप शुक्ला भी जाकर लोगों का स्थिति देखे हैं

टोडरपुर ग्राम सभा के पूर्व प्रधान का घूस लेते हुए भी वायरल वीडियो होने के बाद जी जिला प्रशासन से लेकर उत्तर प्रदेश शासन तक हड़कंप मच गया था जिसकी जानकारी होने के बाद उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री आनंद स्वरूप शुक्ला ने मौके पर जाकर अधिकारियों को फटकार लगाए थे |

ग्राम सचिव को मुख्य विकास अधिकारी शिकायत है कि इनको तुरंत निलंबित कर दिया जाए तथा क्षेत्र विकास अधिकारी को आदेश दिया गया था की भ्रष्ट प्रधान एवं सचिव के ऊपर भ्रष्टाचार का मुकदमा दर्ज कराएं इसके बाद भी ना आज तक प्रधान के ऊपर कोई करवाई हुआ है 9 ग्राम सचिव निलंबित हुए हैं |

हाईकोर्ट के आदेश को भी जांच अधिकारी कर रहे दरकिनार

राम प्रधान मुन्ना राजभर यह बार-बार दावा करता है कि हम पैसे रुपए के बल पर किसी भी अधिकारी की नियत को मोड़ सकते हैं तथा हमारे ऊपर आरोप नहीं लग सकता है |

जिला अधिकारी से फिर मिलेंगे ग्राम सभा के लोग

जिला अधिकारी मंगला प्रसाद सिंह के निर्देशन से ग्राम सभा टोडरपुर में शौचालय की जांच करने पहुंचे उद्यान अधिकारी जाट से असंतुष्ट गांव के लोगों ने जांच अधिकारी की शिकायत करने के लिए जिला अधिकारी से मिलेंगे तथा जांच अधिकारी की बात जिलाधिकारी से अवगत कराएंगे |

Start at 0:00


Read Previous

बीजेपी के कार्यक्रम में पार्षद पर लगे जनता की न सुनने के आरोप

Read Next

कमिश्नर ने ग्राम बड़हर में सुनी ग्रामीणों की समस्याएं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

x
error: Content is protected !!