मुख्तार के शूटर हनुमान पांडे के एनकाउंटर पर उठे सवाल, पिता ने कहा हाईकोर्ट में घसीटूंगा

Questions raised on Mukhtar's shooter Hanuman Pandey's encounter, father said, I will drag you into the High Court

0
एनकाउंटर पर उठे सवाल
एनकाउंटर पर उठे सवाल

 

लखनऊ : पूर्व भाजपा विधायक कृष्णानंद राय हत्याकांड का आरोपी और मुख्तार व मुन्ना बजरंगी एक करीबी शूटर हनुमान पांडे के एनकाउंटर पर सवाल उठने लगे हैं । यह सवाल कोई और नहीं बल्कि राकेश पांडे और हनुमान के पिता ने उठाए हैं। भारतीय सेना से रिटायर्ड हनुमान के पिता बाला दत्त पांडे ने कहा कि यूपी एसडीएम को हम कोर्ट में घसीटेंगे ।
उल्लेखनीय है कि ₹100000 के इनामी बदमाश राकेश पांडे का गत रविवार उत्तर प्रदेश पुलिस ने लखनऊ में एनकाउंटर कर दिया था। राकेश पांडे मुख्तार अंसारी का बड़ा शूटर था जिसे पुलिस को लंबे अरसे से तलाश थी। एसटीएफ के आईजी अमिताभ यश के मुताबिक हनुमान पांडे लखनऊ के सरोजनी नगर में अपने पांच साथियों के साथ किसी वारदात को अंजाम देने आया था।। एक न्यूज चैनल के स्टीकर लगे कार से भाग रहे बदमाशों की कार सैनिक स्कूल के पास गई। इस दौरान उसके चार साथी मौके से भागने में सफल रहे। जबकि एनकाउंटर मे गोली लगने से हनुमान गंभीर रूप से घायल हो गया था।। उन्होंने बताया कि उसे घायल अवस्था में लोहिया अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने हनुमान को मृत घोषित कर दिया ।

सो रहे बेटे को घर से उठाकर ले गई थी पुलिस

हनुमान के पिता का आरोप है कि पुलिस इनके बेटे को घर से उठाकर ले गई थी । वालादत्त के अनुसार लखनऊ स्थित उनके आवास से शनिवार की रात करीब 3:00 बजे पुलिस उनके बेटे को उठाकर ले गई ।। बालादत्त ने बताया कि उनका बेटा अपनी मां का इलाज करवा रहा था ।। उन्होंने कहा कि हनुमान पर पुलिस ने एक लाख का इनाम कब रख दिया कोई मामला सामने नहीं आया ।। बाला दत्त पांडे ने इस पर सवाल उठाते हुए कहा कि इस मामले को वो कोर्ट तक ले जाएंगे।

जाच के लिए जनहित याचिका दायर

मामले में अधिवक्ता विशाल तिवारी ने राकेश पांडेय एनकाउंटर की स्वतंत्र व निष्पक्ष जांच के लिए सीबीआई से जांच कराने की जनहित याचिका सुप्रीम कोर्ट में दायर की है। अधिवक्ता ने जनहित याचिका में मुठभेड़ करने वाले पुलिस अधिकारियों के खिलाफ हत्या, साक्ष्य नष्ट करना, आपराधिक षड्यंत्र और भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) के अन्य धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज करने का निर्देश देने की मांग की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here