the jharokha news

Bijnor, भगवा रंग की पगड़ी बांध कर दो सगे भाइयों ने तोड़ी मजार, चादरों को लगाई आग

Bijnor, भगवा रंग की पगड़ी बांध कर दो सगे भाइयों ने तोड़ी मजार, चादरों को लगाई आग बिजनौर

मीडिया को जानकारी देती हुई आरोपितों की बहन

बिजनौर Bijnor साम्प्रदयिक माहौल खराब करने के के आरोप में गिरफ्तार किए गए दो सगे भाइयों मोहम्मद कमाल अहमद और मोहम्मद आदिल घर संबंधित थाने की पुलिस सहित आला अधिकारियों की टीम सोमवार को जांच करने पहुंची है। मोहम्मद कमाल और मोहम्म आदिल बिजनौर Bijnor जिले के कस्बा शेरकोट कायस्थान के रहने वाले हैं। इन पर आरोप है कि ये दोना भाई रविवार शाम को भगवा रंग की पगड़ी बांध कर मजार को क्षति पहुंचा रहे थे। लेकिन किसी ने इसकी सूचना पुलिस को दे दी और ये दोना आरोपित पकड़ गए।

आरोप है कि मोहम्मद कमाल और आदिल सिर पर भगवा कलर की पगड़ी पहनकर सिलसिले वार तीन मज़ारों को लक्ष्य बना कर मकबरे में चढ़ी चादरों को आग के हवाले कर दिया। यही नहीं आरोपितों ने मकबरे में तोड़ फोड़ भी की , ताकि इस सांप्रदायिक रंग दिया जा सके। हालांकि किसी राहगीर ने इनकी करतूत को देख लिया और पुलिस और ग्रामीणों ने घेर कर दबोच लिया । इस पूरे मामले की प्रदेश की कई खुफिया एजेंसियां गहनता से जाँच पड़ताल कर रही है कि आखिर वारदात को अंजाम देने के पीछे दोनों सगे भाइयों का मकसद किया था।

यह है पूरा मामला

जनपद बिजनौर Bijnor के कस्बा शेरकोट में बीती शाम दो सगे भाई कमाल अहमद व मोहम्मद आदिल जो शेरकोट के कायस्थान इलाके के रहने वाले है। रविवार को शाम करीब पांच बजे से दोनों सगे भाइयों ने तीन मज़ारों में तोड़फोड़ करते हुए मकबरे पर श्रद्धालुओं द्वारा चढ़ाई गई चादरों को भी आग के हवाले किया । मोहम्मद आदिल का बड़ा भाई कमाल अहमद ने वारदात को अंजाम देने से पहले भगवा कलर की पगड़ी पहनकर वारदात को अंजाम दिया।

हाल ही में दुबई से लौटा है आरोपी

गौरतलब है कि कमाल अहमद चार बार सऊदी अरब व कुवैत में भी रह चुका है। कमाल पिछले डेढ़ महीने पहले ही कुवैत से आया है। कमाल शादी शुदा है जिसके चार बच्चे भी है। कमाल का छोटा भाई मोहम्मद आदिल दिल्ली में पलम्बर की दुकान करता है। जनपद बिजनौर की पुलिस व प्रदेश की कई खुफिया एजेंसियां दोनों भाइयों से गहनता से पूछताछ कर रही है।
बताया जा रहा है मोहम्मद आदिल और कमाल खान के घर पहुंची ख़ुफ़िया एजेंसियों ने आरोपियों के घर पर दस्तावेज खंगाले है। दस्तावेज में अहम कमाल का पासपोर्ट भी जब्त कर लिया है। इधर आनन फानन में पुलिस व मज़ार की इन्तेज़मिया कमेटी ने टूटी मज़ार के मकबरे को दुरस्त करा दिया है ।

बहन ने कहा, बड़े भाई की मौत के बाद से सदमें हैं दोनो भाई

इधर हादसे के बाद से आरोपी की माँ बदहवास नज़र आई । वही आरोपी की माँ व बहिन का साफ तौर से कहना है कि दोनों सगे भाई अपने बड़े भाई की मौत के बाद सदमे में थे। डिप्रेशन में होने की वजह से वारदात को अंजाम दिया गया। माँ का कहना है कि अगर उनके बेटे ने मज़ार में तोड़फोड़ की है तो उसे सजा मिलनी चाहिए।

मामले की जांच की जा रही है

वही एसपी Bijnor का साफ तौर से कहना है कि कई पहलुओं से जाँच पड़ताल की जा रही है । शुरुवात दौर में यही लग रहा है कि माहौल की फ़िज़ा खराब करने की नीयत से दोनों भाइयों ने मज़ार में तोड़फोड़ की वारदात को अंजाम दिया है।







Read Previous

Kairana, कैराना में कांवड़ियों पर में मुस्लमानों ने वर्षा फूल, कहा- यही है गंगा जमुनी तहजीब

Read Next

ओम प्रकाश राजभर पर अखिलेश यादव का बड़ा बयान, कहा- उनकी चिंता भाजपा करे, मैं क्यों करूं