Youtube Channel Image
अंग्रेजी में भी पढ़ें अब समाचार अंग्रेजी में भी पढ़ें
मुफ्त पढ़ें

the jharokha news

Bulandshahr: योगीराज में चैकिंग के नाम पर साधु को किया नंगा!, पुलिस जांच में जुटी

(Bulandshahr)बुलंदशहर। यूपी के योगी राज में बुलंदशहर में एक साधु के साथ मानवीय व्यवहार कर उसे नंगा करने का मामला प्रकाश में आया है । जनपद बुलंदशहर के सिकंद्राबाद कोतवाली में तैनात एक दरोगा पर एक साधु ने चैकिंग के नाम पर 2 बार नग्न करने का आरोप लगाया है। मामले को गंभीरता से लेते हुए बुलंदशहर के एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने तत्काल शिव सिकंदराबाद को मामले की जांच कर दो घंटे में जांच रिपोर्ट देने के निर्देश दिए हैं।

बुलंदशहर जनपद के ककोड़ थाना क्षेत्र के गांव कमालपुर के मंदिर पर पीड़ित साधु रहते है। पीड़ित साधु की माने तो 2 दिन पूर्व रात के समय साईकल पर सवार होकर पीड़ित साधु गांव कमालपुर में स्थित मंदिर जा रहे थे आरोप है कि सिकंद्राबाद कोतवाली क्षेत्र में चीती गांव के पास बने पुलिस चेकपोस्ट पर तैनात पुलिस कर्मियों ने रोक लिया और पूछताछ के बाद कमरे में ले जाकर साधु के कपड़े उतरवाए और उसे नंगा कर दिया पीड़ित साधु का आरोप है कि उसका लंगोट भी खुलवा दिया गया फिर साधु का आरोप है कि उसे चेकिंग के नाम पर दो बार नंगा किया गया।

पीड़ित साधु की मानें तो चेक पोस्ट पर तैनात पुलिसकर्मियों ने पहले साधु से पूछताछ के दौरान उसका आई कार्ड में आधार कार्ड मांगा जब वह नहीं दिखा पाया तो उसे संदेह के आधार पर तलाशी लेने के नाम पर कमरे में ले जाकर नग्न किया गया नग्न करने वालों ने मंदिर पर भी आने की बात कही मगर पीड़ित साधु ने दो टूक कहा के मंदिर पर वर्दी में आना। पीड़ित साधु ने बताया कि उसके साथ किए गए कृत्य से उसे मानसिक व सामाजिक आघात पहुंचा है पीड़ित साधु का दावा है कि पुलिस से अमर्यादित व्यवहार की अपेक्षा नहीं थी मगर उसके साथ किए गए कृत्य से उसे मानसिक आघात पहुंचा है ।

सीओ सिकंद्राबाद को जांच कर कार्रवाई के निर्देश

मामले को लेकर एसपी सिटी सुरेंद्र नाथ तिवारी ने बताया कि प्रकरण की जानकारी के लिए तत्काल सीओ सिकंद्राबाद को मौके पर पहुंचकर जांच कर कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए हैं। समाचार लिखे जाने के दौरान सीओ सिकंद्राबाद जांच के लिए मंदिर रवाना हो चुके थे।

एसएसपी ने 2 घंटे में जांच रिपोर्ट की तलब

पीड़ित साधु ने चेकिंग के नाम पर हुई अमानवीय ताकि जानकारी जब ग्रामीणों को दी तो किसी ने साधु का वीडियो बनाकर वायरल कर दिया, जिसके बाद उसे यूपी पुलिस को ट्वीट कर दिया गया, वहीं मामले का तुंरत संज्ञान लेकर बुलंदशहर के डीआईजी/एसएसएपी संतोष कुमार सिंह ने तत्काल घटना की जांच सिकन्द्राबाद के सीओ सुरेश कुमार को सौंपते हुए 2 घंटे में जांच कर रिपोर्ट मांगी है।







Read Previous

चिल्ला के युवक का शव मिला ललौली के जंगल मे परिजनों ने हत्या का आरोप लगाया

Read Next

Firozabad: आजादी के अमृत महोत्सव के तहत रविवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सिरसागंज में विशाल स्वास्थ्य मेला का आयोजन किया गया।

x