the jharokha news

Ghazipur News: रामजी यादव हत्याकांड का चौबीस घंटे के अंदर बरेसर पुलिस ने किया खुलासा

Ghazipur News: Ramji Yadav murder case disclosed by Baresar police within 24 hours

Ghazipur News: रजनीश कुमार मिश्र (गाजीपुर)बरेसर थाने क्षेत्र के सूतिहार निवासी रामजी यादव हत्याकांड का जनपद की बरेसर पुलिस ने 24 घंटे के अंदर ही खुलासा कर दिया । इस संबंध में एसपी ओमबीर सिंह ने अभियुक्त को मिडिया के सामने पेश करते हुए बताया की सूतिहार निवासी रामजी यादव की हत्या किसी रंजिश के चलते नहीं बल्कि आशनाई के चक्कर में हुई थी। उन्होंने मिडिया को बताया की हत्यारोपी रामजी यादव के पुत्री से प्रेम करता था । पुलिस ने बताया की हत्यारोपी भड़यालाल यादव व मृतक रामजी यादव से दोस्ती थी जीस कारण अभियुक्त भड़ाया लाल यादव मृतक रामजी यादव के घर आता जाता था।

इसी दौरान रामजी यादव की पुत्री से प्रेम करने लगा पुलिस ने बताया की पुछताछ के दौरान आरोपी ने बताया हम दोनों अक्सर प्राईमरी स्कूल के पिछे मिला करते थे। 26 नवंबर को भी हमने मिलने के लिए राम जी की पुत्री को प्राईमरी स्कूल के पिछे बुलाया था। इसी दौरान राम जी यादव अपने पुत्री का पिछा करते हुए वहां पहुंच गये । हम दोनों का मिलना देख.रामजी यादव आगबबूला हो गये,हम दोनों में झड़प होने लगी तभी वहां मौजूद रम्मे से राम जी यादव के सर पर वार कर दिया।

  पूर्ति निरीक्षक ने सीखा सबक लिखित दे मांगी माफी

जिससे राम जी की वहीं मौत पुलिस अधीक्षक ओमबीर सिंह ने बताया की आरोपी हत्या को दुर्घटना साबित करने के लिए मृतक रामजी को घसीट कर पुर्वांचल एक्सप्रेसवे के सर्विस रोड पर कर दिया था । ताकि पुलिस हत्या को दुर्घटना समझे वहीं बरेसर थाना प्रभारी धीरेंद्र प्रताप सिंह ने बताया की 27 नवंबर थाने क्षेत्र के सूतिहार निवासी रामजी यादव का शव पुर्वांचल एक्सप्रेसवे के सर्विस रोड पर खुन से सना मिला था । जिसके संबंध में मृतक की पत्नी ने दुर्घटना समझ अज्ञात के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कराया था ।

वहीं ग्रामीण इसे हत्या बता रहे थे, धीरेंद्र प्रताप. सिंह ने बताया. की हमारी.टीम दो पहलूओं पर जांच करने लगी। जिसमे एक का नेतृत्व उपनिरीक्षक रोहित द्विवेदी व एक का मैं स्वयं नेतृत्व कर रहा था । जब हमारी टीम गहनता सें छानबीन में जुटी तो हमारे हाथ कुछ ऐसे सबूत हाथ लगे हत्या की तरफ इशारा कर रहा था । तब हमने फोरेंसिक टीम को घटनास्थल पर बुलाया जब फोरेंसिक टीम ने जांच करना शुरू की तो दुर्घटना हत्या में बदल गया । जांच के उपरांत हमारी टीम जिसमे एसओजी सर्विलांस अभियुक्त को खोजने में लग गई। मुखबिरों को भी सक्रिय कर दिया गया।

  बाराचवर, गाजीपुर: 34वीं पुण्यतिथि पर याद आए पं. केशव प्रसाद चतु‍र्वेदी

इसी दौरान सोमवार की रात्रि मुखबिर से सूचना मिली की जिस.व्यक्ति को आप खोज रहे वो सूतिहार अंडरपास हाईवे पर मौजूद है । सूचना मिलते ही पुलिस व एसओजी की टीम मौके पर पहुंच अभियुक्त भड़ाया लाल को गिरफ्तार कर लिया । उसकी निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त रम्मा को भी बरामद कर लिया गया । धीरेंद्र प्रताप सिंह ने बताया की खुलासा करने वाली टीम में बरेसर प्रभारी निरीक्षक धीरेंद्र प्रताप सिंह, एसओजी प्रभारी रामाश्रय राय और उनकी टीम, उपनिरीक्षक सुनील तिवारी प्रभारी सर्विलांस सेल, उपनिरीक्षक रोहित द्विवेदी, हेड कांस्टेबल शैलेंद्र यादव, कांस्टेबल अभयधर दुबे, कां. शनि कुमार, कां. राजेश मौर्या, महिला आरक्षी लक्ष्मी, प्रियंका गोड़, कां. प्रमोद सरोज, कां. राकेश, कां. चंदन मणि त्रिपाठी और कां. संजय प्रसाद कांस्टेबल दीवाकर सिंह, चालक कांस्टेबल सुधीर शुक्ला आदि शामिल
रहे।








Read Previous

Chhapra News : शादी के छह बाद ही हुल्हन के बाल सफेद, मचा बवाल, पुलिस को देख पति फरार

Read Next

दो मुस्लिम युवतियों ने मंदिर में लिए सात फेरे, कहा- जिस धर्म में 3 बार तलाक बोल देते हैं और फिर करते हैं हलाला वह धर्म हमें पसंद नहीं